नई दिल्ली (पीटीआई)। ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे तीन दिवसीय भारत दौरे पर रविवार देर रात दिल्ली पहुंच गई। यह ब्रेक्जिट के बाद उनका यूरोप के बाहर पहला दौरा है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और टेरीजा के बीच होने वाली वार्ता के मुख्य एजेंडे में रक्षा और व्यापार शीर्ष पर होंगे।

ब्रिटिश पीएम की प्रवक्ता के अनुसार, दोनों देश के नेता सोमवार को नई दिल्ली के हैदराबाद हाउस में दोपहर भोज के दौरान भारत-ब्रिटेन के व्यापक संबंधों पर चर्चा करेंगे।

पढ़ें- ऑपरेशन ब्लू स्टार में ब्रिटिश भूमिका से पर्दा हटाएं टेरीजा: विपक्ष

उन्होंने बताया, 'रक्षा और व्यापार इस द्विपक्षीय वार्ता के अहम हिस्सा होंगे। हम इस भागीदारी को विकसित करने के लिए उत्सुक हैं।' प्रवक्ता ने कहा, 'ब्रिटेन के यूरोपीय संघ को छोड़ने के संदर्भ में टेरीजा की यह यात्रा अहम है।'

टेरीजा मे भारत दौरे की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ भारत-ब्रिटेन प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन के उद्घाटन के साथ करेंगी। इसके बाद दोनों प्रधानमंत्री द्विपक्षीय वार्ता करेंगे और साझा बयान जारी करेंगे। टेरीजा नई दिल्ली यात्रा के दौरान राजघाट और इंडिया गेट भी जा सकती हैं। यहां से वह मंगलवार को बेंगलुरु जाएंगी।

तस्वीरें: पीएम मोदी ने अपनी ऑयल पेंटिंग देख पेंटर को कहा 'थैंक्स'

भारत को गहरा दोस्त कहा

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा ने भारत को ब्रिटेन का सबसे गहरा दोस्त और दुनिया का एक अग्रणी देश करार दिया है। संडे टेलीग्राफ में छपे लेख में उन्होंने लिखा, 'भारत हमारे सबसे अहम और करीबी मित्रों में है। वह दुनिया की एक प्रमुख ताकत है। भारत के साथ हमारा साझा इतिहास, संस्कृति और मूल्य रहे हैं। भारत की अगुआई ऐसे प्रधानमंत्री कर रहे हैं, जो कि सुधारों के लिए दूरगामी कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहे हैं।'

Edited By: kishor joshi