जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में सरकार के नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक के मुद्दे छाये रहे। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के अनुसार नोटबंदी के फैसले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गरीबों के नए मसीहा बनकर उभरे हैं। कोझिकोड की राष्ट्रीय कार्यकारिणी पर उरी हमले की छाया थी, लेकिन नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक के बाद हो रही राष्ट्रीय कार्यकारिणी में आगामी विधानसभा चुनावों में जीत के भरोसे का उत्साह था।

दिल्ली के एनडीएमसी सेंटर में हो रही राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के उदघाटन संबोधन में नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक ही मुख्य मुद्दा रहा। शाह ने विस्तार से बताया कि किस तरह से नोटबंदी देश की अर्थव्यवस्था को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगी और सरकार के पास गरीब कल्याण योजनाओं के लिए ज्यादा धन होगा। उन्होंने कहा कि देश के 18-19 लाख करोड़ रुपये के सालाना बजट में विकास कार्यो पर असल में केवल चार लाख करोड़ रुपये ही खर्च होते हैं। नोटबंदी के बाद सरकार के पास एक-एक पैसे का हिसाब आ गया है और इससे सरकार की कर वसूली निश्चित रूप से बढ़ेगी। अतिरिक्त आए धन का उपयोग सरकार गरीबों के कल्याण के लिए करेगी।

सकारात्मक सियासत : अन्तत: मोदी ने की नीतीश के मन की बात

उन्होंने कहा कि नोटबंदी के दौरान स्थानीय निकायों में लगभग 10 हजार प्रतिनिधियों के लिए चुनाव हो चुके हैं। जिनमें आठ हजार से अधिक भाजपा के प्रतिनिधियों ने जीत हासिल की है, जो सीधे-सीधे नोटबंदी पर आम जनता का समर्थन है। उन्होंने कहा कि पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों में भाजपा की भारी जीत होगी, सभी चुनावी सर्वेक्षणों में इसके संकेत मिल रहे हैं।

केजरीवाल के मंत्री के बिगड़े बोल-'पीएम मोदी जो चाहे कर लें, उनकी किस्मत खराब है'

चुनावों में कालेधन के उपयोग पर रोक लगाने और राजनीतिक फंडिंग को पारदर्शी बनाने के प्रधानमंत्री की कोशिश को आगे बढ़ाते हुए भाजपा ने अपनी ओर से एक कमेटी का गठन किया है। कार्यकारिणी में लिए गए फैसले की जानकारी देते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि एक जिम्मेदार पार्टी होने के नाते भाजपा हमेशा से चुनावों में कालेधन के प्रयोग पर रोक लगाने का पक्षधर रही है। नई कमेटी इस दिशा में पार्टी द्वारा उठाए जाने वालों कदमों के बारे में सुझाव देगी। उन्होंने कहा कि अमित शाह ने प्रतिनिधियों को भाजपा शासित विभिन्न राज्यों में किये जा रहे सकारात्मक कामों की जानकारी दी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021