नई दिल्ली, पीटीआई : अगर आप तेजस से दिल्ली से लखनऊ की यात्रा करना चाहते हैं तो अपने जेब को ठीक से टटोल लें। अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस तेजस ट्रेन का किराया शताब्दी ट्रेन के मौजूदा किराये से 20 से 30 फीसद ज्यादा हो सकता है।

रेलवे मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि तेजस में कई ऐसी सुविधाएं हैं जो भारतीय ट्रेनों में फिलहाल उपलब्ध नहीं हैं। इसको देखते हुए किराया भी अधिक होगा। हालांकि, उन्होंने किराये की स्पष्ट जानकारी देने से इन्कार कर दिया। इसमें विमान की तरह कोच अटेंडेंट को बुलाने के लिए बेल बटन और एलसीडी की सुविधा होगी।

यात्री वाईफाई और मनपसंद खाने का भी लुत्फ ले सकेंगे। दृष्टिहीन यात्रियों की सुविधा को देखते हुए ब्रेल डिसप्ले भी लगे होंगे। सुरक्षा के लिहाज से तेजस में सीसीटीवी कैमरों के अलावा फायर और स्मोक डिटेक्शन यंत्र लगे होंगे।

तेजस ट्रेन को सबसे पहले दिल्ली-लखनऊ मार्ग पर चलाए जाने की संभावना है। इसमें एग्जीक्यूटिव क्लास और चेयर कार होंगे। कपूरथला में बन रहे कोच का रंग-रूप राजधानी और शताब्दी ट्रेनों से ज्यादा आकर्षक होगा। इसमें मौजूदा प्रीमियर ट्रेनों की तुलना में 22 तरह की सुविधाएं ज्यादा होंगी।

पढ़ें- फंड की कमी से जुझ रहे रेलवे को अस्पताल चलाने की जरूरत नहीं: दीपक पारेख

Edited By: Abhishek Pratap Singh