1- ताजा खबरः आतंकवाद रोकने के लिए पाकिस्तान पर दबाव बनाना जरूरी : जनरल रावत

नई दिल्ली (पीटीआई)। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने स्पष्ट कहा है कि जम्मू-कश्मीर में शांति कायम करने के लिए सैन्य ऑपरेशन के साथ-साथ राजनीतिक पहल भी जरूरी है। इसके साथ ही उन्होंने जोर देकर कहा कि सीमा पार से जारी आतंकी गतिविधियों पर अंकुश लगाने के लिए पाकिस्तान पर भारी दबाव बनाने की जरूरत है।

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें
 

2- इजरायल से आया दोस्त, नेतन्याहू बोले- 'भारत एक वैश्विक शक्ति'

जयप्रकाश रंजन, नई दिल्ली । इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू पांच दिवसीय भारत यात्रा पर जब रविवार को दोपहर नई दिल्ली पहुंचे तो उनका वैसा ही स्वागत हुआ जैसा कि पीएम नरेंद्र मोदी का जुलाई, 2017 में तेल अवीव पहुंचने पर हुआ था। नेतन्याहू की आगवानी के लिए मोदी ने स्वयं एयरपोर्ट पर पहुंच कर यह जता दिया कि भारत भी दोस्ती निभाना बखूबी जानता है। जिस तरह से नेतन्याहू ने मोदी के इजरायल दौरे के दौरान अधिकांश समय उनके साथ बिताया था वैसे ही मोदी भी अगले तीन दिनों तक कई कार्यक्रमों में इजरायली पीएम के साथ रहेंगे। मोदी ने इस यात्रा को ऐतिहासिक करार दिया है तो नेतन्याहू ने भारत को एक वैश्विक शक्ति कह कर संबोधित किया है।

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें
 

3- जज विवाद: अब 4 पूर्व जजों ने लिखा चीफ जस्टिस को यह खुला खत

नई दिल्ली (पीटीआई)। भारतीय न्यायिक इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों ने शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेंस कर सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस की प्रशासनिक कार्यशैली पर सवाल उठाए। जिसके बाद राजनैतिक और न्याय जगत में हडकंप मच गया। जजों की प्रेस कांफ्रेंस के बाद अब सुप्रीम कोर्ट के चार रिटायर जजों ने मुख्य न्यायधीश जस्टिस दीपक मिश्रा को एक खुला खत लिखा है। इस खत में चार जजों द्वारा केसों के बटवारे को लेकर उठाए गए सवालों पर सहमति जताते हुए इस विवाद को 'न्यायपालिका के भीतर' ही हल करने की मांग की गई है।

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें
 

4- जस्टिस लोया के बेटे का बयान- हमें किसी पर शक नहीं, मौत पर ना हो राजनीति

नई दिल्ली (एएनआई)।  सीबीआइ के विशेष जज बीएच लोया की हार्टअटैक से हुई जिस मौत को लेकर सवाल उठ रहे हैं उसे लेकर दिवंगत जज लोया का परिवार भी काफी दुखी है। पहली बार मीडिया के सामने आते हुए लोया परिवार ने अपनी राय रखी। जस्टिस लोया के बेटे अनुज ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'पिता की मौत के समय मैं सिर्फ 17 साल का था, इसलिए मुझे इस बारे में ज्यादा नहीं पता है। कई लोग इस मामले में परिवार को परेशान कर रहे हैं। हमें किसी पर शक नहीं है।  हमें इस विवाद की वजह से काफी दिक्कत हो रही है।'

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें 

5- चपरासी पद के लिए लाइन में इंजीनियर-एमबीए-पीएचडी वाले, जज भी चकराए

ग्वालियर। मध्य प्रदेश में युवाओं की बेरोजगारी इस बार जजों का सिर चकरा रही है। दरअसल, ग्वालियर जिला कोर्ट में चपरासी के महज 57 पदों के लिए 60 हजार आवेदन आए हैं। चौंकाने वाली बात यह है कि पद का मानदेय सिर्फ साढ़े सात हजार रुपए है, लेकिन अधिकतर उम्मीदवार इंजीनियर, एमबीए और यहां तक कि पीएचडी डिग्रीधारी हैं। इन आवेदनों को देखकर जिला कोर्ट प्रशासन भी पसीना-पसीना हो रहा है, क्योंकि चपरासी के लिए शैक्षणिक योग्यता 8वीं पास रखी गई है। इसलिए सभी को स्क्रीनिंग और पर्सनल इंटरव्यू के लिए जज के सामने से गुजरना होगा जो बड़ी चुनौती है।

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें
 

6- विराट कोहली पर भड़के सहवाग, 'सेंचुरियन में रन बनाओ, नहीं तो खुद को करो टीम से बाहर'

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने भारतीय कप्तान विराट कोहली के दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन टेस्ट में उनके टीम चयन को लेकर सवाल उठाए हैं। सहवाग ने कहा कि विराट कोहली अगर सेंचुरियन टेस्ट में अपने बल्ले से प्रदर्शन नहीं करते हैं तो वह अपने आप को अगले टेस्ट से बाहर कर लें। भारतीय टीम को केपटाउन में पहले टेस्ट में 72 रन की शिकस्त झेलनी पड़ी थी। इसके बाद दूसरे टेस्ट के लिए उसने अपनी टीम में तीन बदलाव किए। ओपनर शिखर धवन की जगह केएल राहुल, विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा की जगह पार्थिव पटेल और तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की जगह इशांत शर्मा को शामिल किया।

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

7- 'सबमरीन किलर्स' खरीदने की तैयारी में भारतीय नौसेना, जानिए इसकी खासियत

नई दिल्ली (आइएएनएस)। भारतीय नौसेना निगरानी और पनडुब्बी को नष्ट करने में सक्षम विमान 'बोइंग पी-8आइ' की और अधिक खरीद करने की योजना बना रही है। 'इंडिया स्ट्रेटेजिक' पत्रिका को दिए साक्षात्कार में एडमिरल सुनील लांबा ने कहा कि हवाई निगरानी की क्षमता नौसेना अभियानों के लिए महत्वपूर्ण है। यही वजह है कि नौसेना इन विमानों की और ज्यादा खरीद करेगी। हालांकि उन्होंने इसकी संख्या की जानकारी नहीं दी। उनके पूर्ववर्ती ने लंबी दूरी की समुद्री टोह (एलआरएमआर) लेने वाले 30 विमानों की जरूरत बताई थी। इनमें से नौसेना आठ विमानों को खरीद चुकी है। चार और विमानों को खरीदने का ऑर्डर दे चुकी है।

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें 
 

8- जलते जहाज में 89 डिग्री की तपिश के बीच चीनी दल ने ढूंढ़े दो शव

शंघाई। हादसे के हफ्ते भर बाद चीन के बचाव दल को आग की लपटों के शिकार ईरानी तेल टैंकर तक पहुंचने में सफलता मिल गई है। दल के सदस्यों को जहाज के एक हिस्से से दो नाविकों के शव बरामद किए हैं। इससे पहले समुद्र से एक शव बरामद हो चुका है। दुर्घटनाग्रस्त जहाज के चालक दल के 29 सदस्य अब भी लापता हैं। पनामा में रजिस्टर्ड सांची नाम का यह तेल टैंकर खाद्यान्न लदे जहाज से टकराकर छह जनवरी की रात में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। 1,36,000 टन अति ज्वलनशील तेल भरे इस जहाज में उसी समय आग लग गई थी। चीन, अमेरिका, दक्षिण कोरिया और सिंगापुर ने बचाव अभियान चलाया। लेकिन समुद्री इलाके में खराब मौसम और तेज हवा से बचाव कार्य प्रभावित हुआ।

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें
 

9- मकर संक्रांति: पांच साल बाद एक-दूसरे के भोज में शामिल हुए BJP व JDU

पटना। मकर संक्रांति के अवसर पर बिहार में राजनीतिक दलों के चूड़ा-दही भोज में सियासी तड़का देखने को मिल रहा है। राजग के घटक दलों के नेता भोज का आयोजन कर रहे हैं तो विपक्षी महागठबंधन में सन्‍नाटा पसरा है। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के घर मकर संक्रांति की चहल-पहल नहीं दिख रही। खास बात यह कि एक-दूसरे के भोज में जदयू व भाजपा के नेता पांच साल बाद शामिल हो रहे हैं। जदयू प्रदेश अध्‍यक्ष वशिष्‍ठ नारायण सिंह के भोज में राजद और कांग्रेस के नेताओं को नहीं देखा जा रहा है। आज के भोज में बीते साल के भोज की भी चर्चा है, जिसमें राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को दही का टीका लगाकर 'राजतिलक' लगाने की घोषणा की थी।

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें
 

10- तीन मूर्ति का इजरायल से है वर्षों पुराना नाता, इसलिए बदला नाम

नई दिल्ली। इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू छह दिवसीय भारत दौरे पर हैं। यात्रा के पहले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके इजरायली समकक्ष बेंजामिन नेतन्याहू तीन मूर्ति मेमोरियल पर आयोजित एक विशेष कार्यक्रम में शामिल हुए। बता दें कि इजरायल के प्रधानमंत्री के भारत आने से पहले ही तीन मूर्ति चौक और तीन मूर्ति मार्ग का नाम बदल दिया गया था। अब इसे तीन मूर्ति हाइफा चौक और तीन मूर्ति हैफा मार्ग के तौर पर जाना जाएगा। हाइफा इस्राइल के एक शहर का नाम है।

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें
 

By Manoj Yadav