राज्य ब्यूरो, श्रीनगर। कश्मीर घाटी में मंगलवार को सोपोर, पलहालन और लालपोरा (कुपवाड़ा) में हिंसक भीड़ ने सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाते हुए सुरक्षाबलों के बंकरों पर पथराव किया। इस पर पुलिस को भी बल प्रयोग करना पड़ा।

दक्षिण से लेकर उत्तरी कश्मीर तक विभिन्न जगहों पर पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच देर शाम तक चली हिंसक झड़पों में दो दर्जन लोग घायल हो गए, हालांकि पुलिस ने सिर्फ तीन जगह हिंसा में दो लोगों के घायल होने की पुष्टि की है। वहीं वादी के विभिन्न इलाकों राष्ट्रविरोधी रैलियां निकाली गईं। लगातार 32वें दिन हड़ताल, बंद और प्रशासनिक पाबंदियों से वादी का सामान्य जनजीवन ठप रहा।

मंगलवार को सिर्फ अनंतनाग और श्रीनगर शहर के डाउन-टाउन में ही घोषित कर्फ्यू था। अन्य जगहों पर सिर्फ प्रशासनिक पाबंदियां थी। दुकानें और निजी प्रतिष्ठान बीते दिनों की तरह ही बंद रहे। सड़कों पर अन्य दिनों की अपेक्षा वाहनों की तादाद ज्यादा रही। वहीं दिनभर वादी के विभिन्न इलाकों में राष्ट्रविरोधी रैलियों का आयोजन होता रहा।

पढ़ेंः भारत के विदेश सचिव ने पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित को किया तलब

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस