महासमुंद, जेएनएन। चोर का कर्म चोरी और चोर का धर्म भी चोरी... ये कहावत आपने सुनी होगी। चोर जब कहीं जाता है तो फिर उससे धर्म की उम्मीद नहीं की जाती, बल्कि आशंका उसके कर्म को लेकर होती है। क्या आपने कोई ऐसा चोर देखा है जो मंदिर में जाए, माथा टेके और फिर मंदिर में माता का चांदी का छत्र चुराकर बड़े आराम से भाग जाए। नहीं देखा तो यह खबर पढ़ें और खबर के अंत में लगा वीडियो जरूर देखें...

1.09 मिनट में दिया चोरी को अंजाम
छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के बिरकोनी में 9 जनवरी की रात चंडी माता मंदिर में रात ठीक 1.09:45 बजे एक चोर चुपके से दाखिल होता है। चोर मंदिर के अंदर आते ही सबसे पहले फर्श को छूकर हाथ माथे पर लगाता है। इसके बाद वह उस चबूतरे के पास पहुंचता है, जहां माता की मूर्ती रखी गई है। यहां भी चबूतरे को छूकर एक बार फिर माथे पर हाथ लगाता है। इसके बाद वह चबूतरे पर चढ़ जाता है। यहां वह सबसे पहले माता की मूर्ति के ऊपर लगे चांदी के छत्र को उतार लेता है। फिर चोर मूर्ति के जेवर भी निकालकर 1.10:54 बजे मंदिर से बाहर चला जाता है।

सीसीटीवी में कैद हुई चोरी
चोरी की यह घटना मंदिर के गर्भगृह में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। रोज की तरह सुबह जब पुजारी मंदिर में पूजा करने पहुंचे तो उनके होश उड़ गए। पुजारी ने बिना किसी देरी के चोरी की इस घटना की रिपोर्ट पुलिस को दी। पुलिस ने जब सीसीटीवी कैमरों की जांच की तो चोर की सारी हरकतें इसमें कैद नजर आईं। इस वीडियो फुटेज में चोर का पूरा हुलिया साफ नजर आता है।

पुलिस इस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर अब चोर की तलाश कर रही है।

Posted By: Digpal Singh