नई दिल्ली। हमारे समाज में अपराधियों को लेकर ज्यादातर लोगों की सोच लगभग एक ही तरह की होती है। ज्यादातर लोग इनसे नफरत ही करते हैं। शायद यही वजह है कि अपराधियों को सलाखों के पीछे रखा भी जाता है। लेकिन यदि अपराधियों के रहने वाली जगह चकाचौंध से भरी दिखाई दे तो उसे देखकर आपको जरूर आश्चर्य होगा। ऐसी ही एक जगह है अमेरिका के पश्चिमी फ्लोरिडा का पैलेस मोबाइल होम पार्क।

US ने दिया धोखा, पाक को आतंक से लड़ाई के नाम पर दिए 5300 करोड़ रुपये

नाम सुनकर इसकी कल्पना करना बेमानी है कि यहां पर यौन अपराधी या फिर सेक्स ऑफेंडर रहते होंगे। डचेज वैली की खबर के मुताबिक इसका नजारा अमेेरिका के किसी ट्रेलर पार्क से कम नहीं है। दरअसल, यहां रहने वाले सभी लोग कभी न कभी सेक्स अपराधी रहे हैं। यह ऐसे 120 लोगों की कॉलोनी है जिन्हें यौन अपराधों के लिए सजा हो चुकी है। शहर से लगभग निकाल दिए गए इन लोगों में बलात्कारी हैं, बच्चों के साथ यौन अपराध करने वाले हैं और इंटरनेट पर यौन अपराध करने वाले भी इनमें शामिल हैं।

शिवसेना नेता की गुंडई, बैंक कर्मी से की अभद्रता, जड़ा तमाचा

इनमें सुधार को देखते हुए इन सभी को सामुदायिक सुविधाएं दी गई हैं। इसके अलावा साझे थेरेपी सेशन होते हैं। इन सभी का एक ही सपना है कि एक दिन समाज इन्हें स्वीकार कर लेगा। यहां रहने वालों को दोबारा किसी अपराध के लिए सजा नहीं हुई है। अमेरिका में आठ लाख लोग हैं जिन्हें यौन अपराधों में सजा हुई है। पिछले पांच साल में देश में यौन अपराध 15 फीसदी बढ़े हैं।

अनंतनाग में कार में मिले 58 लाख, विपक्ष ने लगाया वोटरों को खरीदने का आरोप

इस जगह का इतिहास ज्यादा पुराना नहीं है। 'द पैलेस' नाम की इस जगह को 1996 में नैंसी मोराएस ने बसाया था। मोराएस का बेटा एक यौन अपराधी था और उसे रहने को कोई जगह देने को तैयार नहीं था। तब मोराएस ने यह जगह बसाई। फ्लोरिडा के कानून के मुताबिक यौन अपराधी ऐसी किसी जगह के पास भी नहीं जा सकते जहां बच्चे हों। यही वजह थी कि एक-एक करके यौन अपराधी 'द पैलेस' में बसते चले गए। यहां रहने वालों की उम्र 25 से 88 वर्ष के बीच है। सब के पांवों में ऐंकल ब्रेसलेट्स हैं जिनसे उनकी आवाजाही पर नजर रखी जाती है। साल में दो बार उन्हें थाने में हाजरी लगानी होती है।

नई उद्योग नीति पर फिर हंगामा, विपक्ष ने मांगा उद्योग मंत्री का इस्तीफा

अपनी जान बचाने समुद्र में 20 घंटों तक जूझता रहा, फिर हुआ ये

Posted By: Kamal Verma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस