नई दिल्ली [जागरण स्पेशल]। लंबे इंतजार के बाद आखिरकार दिल्ली वासियों को यमुना नदी पर सिग्नेचर ब्रिज की सौगात मिल ही गई। इसके बाद से यहां पर सेल्फी लेने वालों का जमावड़ा लग रहा है। दिल्ली के इस सिग्नेजर ब्रिज की खूबसूरती देखने लायक है।

हालांकि ये कोई पहला मौका नहीं है जब लोगों में किसी पुल के प्रति ऐसी दीवानगी देखी जा रही है। इससे पहले भी देश के कई ऐसे पुल हैं, जो लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र रहे हैं। देश में कुछ ऐसे भी पुल हैं, जिन्हें पर्यटन स्थलों में शामिल किया गया है। आइये जानते हैं देश के कुछ ऐसी ही पुलों के बारे में जो अपनी लंबाई, ऑर्किटेक्चर और डिजाइन की वजह से लोगों को आकर्षित करते हैं। आज भी ये पुल देश में सेल्फी प्वाइंट बने हुए हैं।

1. ढोला सादिया, असम
असम में ब्रह्मपुत्र नदी पर बना ढोला सादिया पुल देश का सबसे लंबा पुल माना जाता है। इसकी लंबाई करीब 9.15 किलोमीटर है। ये असम को अरुणाचल प्रदेश से जोड़ता है। मई 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस पुल का उद्घाटन किया था।

2. महात्मा गांधी सेतु, बिहार
बिहार में गंगा नदी पर बना ये पुल देश का दूसरा सबसे लंबा पुल है। इसकी लंबाई तकरीबन 5.575 किमी है। ये दुनिया का सबसे लंबा दो लेन का पुल है। ये पुल पटना को हाजीपुर से जोड़ता है।

3. इंदिरा गांधी सेतु, तमिलनाडु
पंबन ब्रिज (इंदिरा गांधी सेतु) समुद्र पर बना भारत का पहला पुल है। बांद्रा-वर्ली सी लिंक के बाद ये भारत का दूसरा सबसे बड़ा समुद्री पुल है। ये रामेश्वरम टापू को भारत के अन्य हिस्से से जोड़ता है।

4. राजीव गांधी सेतु, महाराष्ट्र
राजीव गांधी सेतु को बांद्रा-वर्ली सी लिंक के नाम से भी जाना जाता है। आठ लेन का ये ब्रिज केबल के जरिए हवा में झूल रहा है। इसके बनने के बाद से मुंबई वालों को जाम से काफी राहत मिली है। ये देश का सबसे बड़ा सी लिंक है।

5. रविंद्र नाथ टैगोर पुल, पश्चिम बंगाल
कोलकाता में हुगली नदी पर बने रविंंद्रनाथ टैगोर पुल को हावड़ा ब्रिज के नाम से भी जाना जाता है। हावड़ा ब्रिज के नाम से ये पुल दुनिया भर में मशहूर है। ये हावड़ा और कलकत्ता शहर को आपस में जोड़ता है। समुद्री जहाजों के आने पर ये पुल खुल भी सकता है।

6. विद्यासागर सेतु, पश्चिम बंगाल
कोलकाता की हुगली नदी पर बना ये पुल सेकेंड हुगली ब्रिज के तौर पर मशहूर है। ये ब्रिज भी तारों के सहारे झूल रहा है। विद्यासागर सेतु अपनी तरह का भारत में सबसे लंबा पुल है।

7. नर्मदा ब्रिज, गुजरात
नर्मदा ब्रिज, गुजरात के सबसे लंबे पुलों में शामिल है। ये अंकलेश्वर से भरूच को जोड़ता है। नर्मदा नदी पर बने इस पुल को गोल्डन ब्रिज के नाम से भी जाना जाता है।

8. नैनी ब्रिज, उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश में यमुना नदी के ऊपर ये अद्भुत पुल बना है। ये भी भारत के सबसे लंबे केबल ब्रिज के तौर पर जाना जाता है। ये इलाहाबाद शहर को नैनी से जोड़ता है।

9. ब्रह्मपुत्रा ब्रिज, असम
असम में ब्रह्मपुत्रा नदी के ऊपर बना ये सबसे लंबा ब्रिज है। ये ब्रिज असम वैली को काजीरंगा नेशनल पार्क से जोड़ता है। इसलिए इस पर सफर करना हमेशा बेहत आनंददायक और रोमांचक साबित होता है।

10. जदुकाटा ब्रिज, मेघालय
जदुकाटा ब्रिज में भारत में बने सभी पुलों में से सबसे लंबे स्पैम का प्रयोग किया गया है। मेघालय में बना जदुकाटा ब्रिज दुनिया के सबसे खूबसूरत पुलों की सूची में शामिल है।

देश के कुछ अन्य अनोखे पुल
जवाहर सेतु, बिहार- सोन नदी पर बना 3 किमी का ये पुल देहरी-ऑन-सोन और सोन नगर को जोड़ता है।
स्वामी विवेकानंद ब्रिज, गुजरात- अहमदाबाद में बना ये पुल 480 मीटर लंबा, 6.3 मीटर चौड़ा और 120 साल पुराना है।
कलिआ बमोरा ब्रिज, असम- तेजपुर, असम में ब्रह्मपुत्र नदी पर कंक्रीट से बने इस पुल की लंबी तीन किमी है।
लिविंग रूट ब्रिज, मेघालय- इसे नॉर्थ-इस्ट भारत में घूमने की सबसे अच्छी जगह माना जाती है।
सिंगसोर ब्रिज, सिक्किम- सिक्किम का सबसे ऊंचा पुल है, जो दो पहाड़ियों को जोड़ता है और पर्यटकों को काफी पसंद है।
बाघ पुल, पश्चिम बंगाल- तीस्ता नदि पर बने इस पुल को सेवेको ब्रिज भी कहते हैं। स्थानीय लोग इसे बाघ पुल कहते हैं।
बंबू ब्रिज, अरूणाचल प्रदेश- सियांग नदी पर बांस और रस्सी से बने इस परंपरिक पुल की कलाकारी का कोई जवाब नही।
अक्कर ब्रिज, सिक्किम- भारत का यह पहला ऐसा पुल है जो सिर्फ तारों और कंक्रीट से बना हुआ है।
नमदंग स्टोन ब्रिज, असम- इसकी लंबाई 6 किलो मीटर है। इस अनोखे पुल को चट्टान काटकर बनाया गया है।
चुबी बैली ब्रिज, नागालैंड- यह ऐशिया का सबसे बड़ा बेली ब्रिज है। यह वोखा के डोयांग नदी पर बना है।
हैंगिंग ब्रिज, अरुणाचल प्रदेश- अरुणाचल प्रदेश के लोहित नदी पर बना यह पुल हैगिंग ब्रिज हैं।

Posted By: Amit Singh