जागरण न्यूज नेटवर्क, जम्मू। जम्मू कश्मीर के उड़ी में आतंकी हमले के बाद भारत व पाकिस्तान के बीच उपजे तनाव के चलते सीमा पर भी हलचल तेज हो गई है। सेना की पश्चिमी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल सुरेंद्र सिंह ने शनिवार को पठानकोट, हीरानगर, जम्मू व सांबा के सीमावर्ती क्षेत्रों का दौरा कर सुरक्षा हालात का जायजा लिया।

उत्तरी कमान मुख्यालय ऊधमपुर में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर सीमा पर सेना की तैनाती व सुरक्षा व्यवस्था पर चर्चा की। उन्होंने सेना से पूरी तरह सतर्क रहने और किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा।लेफ्टिनेंट जनरल सुरेंद्र सिंह सुबह करीब नौ बजे हेलीकॉप्टर से हीरानगर के गदयाल पहुंचे और वहां से वाहनों के साथ मनयारी सीमांत क्षेत्र में जाकर सेना के उच्च अधिकरियों के साथ सुरक्षा को लेकर बैठक की।

करीब ढाई घंटे तक चली इस अहम बैठक के बाद सेना के अधिकारियों ने उस क्षेत्र का भी दौरा किया, जहां दो दिन पहले सीमा पार से गुब्बारानुमा ड्रोन जैसा यंत्र देखा गया था। इसके बाद उत्तरी कमान मुख्यालय ऊधमपुर में आयोजित बैठक में सेना की उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा, नौवीं कोर के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल प्रवीन आमरे, 16वीं कोर के लेफ्टिनेंट जनरल आरआर निरभोरकर के अलावा वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित रहे। बैठक में सीमावर्ती क्षेत्रों में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के साथ उड़ी आतंकवादी हमले के बाद उपजे हालात पर विचार विमर्श किया गया।

पढ़ेंः दुनिया के सामने नवाज शरीफ के झूठ को बेनकाब करेगा भारत

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस