नई दिल्ली, एएनआई। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी और माकपा नेता सीताराम येचुरी के खिलाफ आरएसएस कार्यकर्ता की ओर दायर मानहानि याचिका मामले में थाने की कोर्ट ने सुनवाई के लिए 1 जुलाई तय की है। याचिका के अनुसार दोनों नेताओं ने गौरी लंकेश की हत्‍या के लिए आरएसएस और उसे दोषी बताया था।

मशहूर पत्रकार गौरी लंकेश की हत्‍या के मामले में कांग्रेस के अध्‍यक्ष राहुल गांधी और माकपा के वरिष्‍ठ नेता सीताराम येचुरी को 30 अप्रैल को थाने कोर्ट में पेश होना था। मानहानि याचिका दायर करने वाले स्‍वयं सेवक संघ के कार्यकर्ता विवेक चंपानेरकर ने अपनी याचिका में आरोप लगाया था कि पत्रकार की हत्‍या मामले में दोनों नेता उसका नाम उछाल रहे हैं।

रैलियों में बार बार उनका नाम बदनाम किया जाता है। इस याचिका की सुनवाई के लिए मंगलवार 30 अप्रैल को कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी और सीताराम येचुरी को थाने कोर्ट में पेश होना था। लेकिन दोनों नेता कोर्ट में पेश हुए कि नहीं इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है। कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई के लिए 1 जुलाई की तिथि मुकर्रर की है।

Posted By: Rizwan Mohammad

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप