नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) का मुखिया आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू पटियाला की नाभा जेल के अंदर से भारत विरोधी गतिविधि चला रहा था। वह स्काइप के जरिये पाकिस्तान के आतंकियों को वीडियो कॉल कर तमाम जानकारी देने के साथ उनके इशारे पर काम करता था। गिरफ्त में आए हरमिंदर से स्पेशल सेल की पूछताछ में अहम जानकारियां सामने आ रही हैं। स्पेशल सेल ने हरमिंदर के पास से पिस्टल के अलावा दो हजार के तीन नए नोट और एक डायरी भी बरामद की है, जिसमें उसके कई साथियों का पता और फोन नंबर हैं। इसकी जांच की जा रही है।

पूछताछ में मिंटू ने बताया कि जेल से भागने से एक दिन पहले उसने अपने पाकिस्ताना आका हरमीत से इंटरनेट चैट की थी। खालिस्तानी आतंकी हरमिंदर मिंटू ने कहा कि ISI उसके नेतृत्व में खालिस्तानी आंदोलन को फिर से जिंदा करना चाहती थी। मिंटू ने कहा कि उसका आका लाहौर के एक गांव में ISI की सुरक्षा में महफूज जिंदगी जी रहा है।

स्पेशल सेल के सूत्रों की मानें तो नाभा जेल के अंदर हरमिंदर को मोबाइल फोन उपलब्ध था, जिस पर वह फेसबुक, वाट्सएप ही नहीं स्पाइक का भी इस्तेमाल करता था। स्पाइक का इस्तेमाल वीडियो कॉल करने के लिए करता था क्योंकि स्पाइक पर होने वाली वीडियो कॉल को ट्रेस नहीं किया जा सकता है। भारत विरोधी गतिविधि चलाने के लिए उसे पाकिस्तान से मदद मिल रही थी। पाकिस्तान में उसके कई जानकार हैं।

वह मोबाइल के जरिये अपने साथियों से सूचनाएं एकत्रित करता था और वीडियो कॉल के जरिये पाक में बैठे आतंकियों से उसे साझा करता था। नाभा जेल में भी जांच के लिए स्पेशल सेल की एक टीम को भेजा गया है। स्पेशल सेल फरार गैंगस्टर कश्मीर सिंह की तलाश कर रही है। स्पेशल सेल की एक टीम उत्तर प्रदेश के शामली गई है ताकि वहां पकड़े गए बदमाश पलविंदर सिंह से पूछताछ कर कश्मीर सिंह के बारे में कुछ जानकारी जुटाई जा सके।

पंजाब पुलिस ने भी की पूछताछ

निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर स्पेशल सेल द्वारा दबोचे गए हरमिंदर से पूछताछ के लिए सोमवार रात ही पंजाब पुलिस की एक टीम दिल्ली आ गई थी। पुलिस रिमांड मिलने के बाद मंगलवार को पंजाब पुलिस ने भी उससे पूछताछ की।

पढ़ें- व्हाट्सएप का वीडियो कालिंग इनवाइट है फेक, वायरस अटैक या हैक हो सकता है आपका फोन

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस