राज्य ब्यूरो, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के हज एवं ऑकाफ मंत्री फारुक अहमद अंद्राबी के डुरु-अनंतनाग स्थित पैतृक निवास पर आतंकी हमला किया गया। रविवार को हमले के दौरान आतंकियों ने दो पुलिसकर्मियों को जख्मी कर पांच सरकारी एसएलआर राइफलें लूट लीं। घायल पुलिसकर्मियों में से एक की हालत नाजुक है। इस हमले को श्रीनगर व अनंतनाग संसदीय क्षेत्रों की उपचुनाव प्रक्रिया में खलल डालने की साजिश माना जा रहा है।

इस घटना के बाद पूरे दक्षिण कश्मीर में अलर्ट जारी किया गया है। सभी राजनीतिक दलों के नेताओं व कार्यकत्र्ताओं की सुरक्षा को बढ़ाते हुए, मंत्री के घर हमला करने वाले आतंकियों की धरपकड़ के लिए सघन तलाशी अभियान चलाया गया है।

बता दें कि मंत्री फारुक अहमद अंद्राबी मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के मौसा हैं और अनंतनाग के अंतर्गत डुरु विधानसभा क्षेत्र के विधायक भी हैं। अनंतनाग लोकसभा सीट के उपचुनाव के तहत 12 अप्रैल को मतदान होना है।

मिली जानकारी के अनुसार, रविवार रात 10.30 बजे से 11 बजे के बीच स्वचालित हथियारों से लैस आतंकियों का एक दल डुरु के साथ सटे शिशतरगाम में स्थित मंत्री के पैतृक घर में दाखिल हुआ। इस मकान में मंत्री के मां-बाप रहते हैं और खुद वह श्रीनगर में रह रहे हैं। हमले के समय मंत्री अपने पुश्तैनी मकान में नहीं थे। हालांकि आतंकियों ने मंत्री के किसी रिश्तेदार को भी नुकसान नहीं पहुंचाया।

कहा जाता है कि आतंकी बिना किसी प्रतिरोध के मंत्री के मकान में दाखिल होने में कामयाब रहे। इसके बाद उन्होंने गारद रूम पर धावा बोला। उस समय वहां दो पुलिसकर्मी गुलजार और जहूर थे। उन्होंने आतंकियों को देख जैसे ही अपने हथियार संभाल फायर करना चाहा, आतंकियों ने उन पर गोलियां बरसा दी।

यह भी पढ़ेंः पुलवामा: पडगामपोरा में पुलिस दल पर आतंकी हमला, दो आतंकी ढेर

यह भी पढ़ेंः टाइम की 100 प्रभावशाली हस्तियों में प्रधानमंत्री मोदी का नाम शामिल

Posted By: Gunateet Ojha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस