PreviousNext

मैदान में कोहरे का कहर, पहाड़ में पारा लुढ़का

Publish Date:Sat, 30 Dec 2017 10:22 PM (IST) | Updated Date:Sat, 30 Dec 2017 10:22 PM (IST)
मैदान में कोहरे का कहर, पहाड़ में पारा लुढ़कामैदान में कोहरे का कहर, पहाड़ में पारा लुढ़का
मरुधर, साबरमती, झांसी इंटरसिटी, राप्ती सागर, वरुणा, कोटा पटना एक्सप्रेस समेत करीब डेढ़ दर्जन ट्रेनें चार से पांच घंटे विलंब से चलीं।

नई दिल्ली, जागरण न्यूज नेटवर्क। उत्तर भारत में पड़ रही ठंड और घने कोहरे ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है। जबकि पहाड़ों में पारा लुढ़क गया है। दिसंबर के आखिरी दिनों में उत्तर प्रदेश बर्फीली हवाओं की जद में है। शुक्रवार देर रात से जारी घने कोहरे का घेरा शनिवार तक बना रहा। सुबह जहां सड़कों पर यातायात व्यवस्था रेंगती नजर आई तो रेलगाडि़यों की रफ्तार भी धीमी पड़ गई।

मरुधर, साबरमती, झांसी इंटरसिटी, राप्ती सागर, वरुणा, कोटा पटना एक्सप्रेस समेत करीब डेढ़ दर्जन ट्रेनें चार से पांच घंटे विलंब से चलीं। कोहरे की वजह से उप्र में कई सड़क हादसे हुए जिनमें तीन लोगों की मौत हो गई, कई घायल हो गए। सर्दी लगने से 10 लोगों की जान चली गई। बुलंदशहर में हाईवे पर कोहरे के कारण दर्जनभर वाहन टकरा गए। बिहार, हरियाणा और राजस्थान में भी घना कोहरा देखा जा रहा है।

बिहार में घना कोहरा

बिहार की राजधानी पटना में शुक्रवार की रात से ही घना कोहरा छाया रहा। हवा में नमी के कारण ऐसा लग रहा था कि मानो आसमान से पानी की फुहारें गिर रहीं हों। पूरे बिहार में कमोबेश यही स्थिति रही। शनिवार को पटना का न्यूनतम तापमान 9.00 डिग्री और अधिकतम 18.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग के अनुसार रविवार को पटना सहित पूरे प्रदेश में घना कोहरा छाए रहने का अनुमान है।

लेह में न्यूनतम तापमान माइनस 13.8 डिग्री सेल्सियस

कश्मीर को देश के अन्य हिस्सों से मिलाने वाला जम्मू-श्रीनगर हाईवे शनिवार तड़के रामबन क्षेत्र में भूस्खलन के चलते तीन घंटे यातायात के लिए बंद रहा। इसके बाद यातायात दोबारा बहाल हो गया। श्रीनगर व इसके साथ सटे इलाकों में दिन में हल्की धूप छाई रही, लेकिन साथ चलने वाली बर्फीली हवाओं ने ठंड का भरपूर अहसास कराया। श्रीनगर में अधिकतम तापमान 13.1 डिग्री व न्यूनतम माइनस 3.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान माइनस 6.6, पहलगाम में माइनस 5.5, कारगिल में माइनस 11.2 व लेह में माइनस 13.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

हिमाचल में पूरी नहीं होगी व्हाइट न्यू ईयर की आस

हिमाचल प्रदेश में व्हाइट न्यू ईयर यानी नव वर्ष के उपलक्ष्य पर बारिश व बर्फबारी की संभावना नहीं है। मौसम विज्ञानियों के अनुसार, प्रदेश के तापमान में वह नमी नहीं है जिससे कि आने वाले दिनों में बर्फबारी व बारिश हो। हालांकि, 29 दिसंबर को भी नार्थ पाकिस्तान से सक्रिय हुई पश्चिमी हवाओं ने प्रदेश की ओर रुख किया था, लेकिन ये अधिक प्रभावशाली नहीं थीं। चार दिन से अधिकांश हिस्सों में खिल रही धूप से राज्य के न्यूनतम तापमान में भारी परिवर्तन दर्ज किया गया है। जनजातीय क्षेत्र केलंग में जहां चार दिन पहले न्यूनतम तापमान माइनस 12 डिग्री सेल्सियस तक लुढ़क चुका था वहीं शनिवार को यह तापमान माइनस सात तक पहुंच गया है।

यह भी पढ़ें: बिहार में ठंड से 10 की मौत, घने कोहरे से जनजीवन प्रभावित

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:temperature decrease in india(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

जब रवैया उदासीन तो कैसे होंगे सिटी स्मार्टशोकगीत में बदला मुंबई के नव वर्ष का जश्न, पब अग्निकांड ने उत्साह ठंडा कर दिया