मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

मुंबई, पीटीआइ। मां-बेटी और भाई-बहन का रिश्ता दुनिया का सबसे पवित्र रिश्ता होता है। लेकिन, मुंबई के मानखुर्द से एक ऐसी घटना सामने आई है जिसने मां-बेटी और भाई बहन के रिश्‍ते को शर्मशार कर दिया है। यहां एक मां ने अपनी सगी बेटी को वैश्यावृति में धकेला, यहां तक कि पीडि़ता के सगे भाई ने भी उससे दुष्‍कर्म किया। पुलिस ने मामला दर्ज करके पांच लोगों को गिरफ्तार क‍र लिया है। गिरफ्तार किए जाने वाले लोगों में पीडि़ता की मां, उसका भाई और पति भी शामिल है।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि नाबालिग बच्ची की मां ने पिछले साल अप्रैल महीने में उसकी शादी जबरन एक युवक से करा दी थी। पीडि़ता का पति उसके साथ संबंध बनाने के लिए रोज उसकी पिटाई करता था। यही नहीं उसने पीडि़ता से जबरन शारीरिक संबंध भी बनाए। लड़की उसकी पिटाई से तंग आकर अपने घर वापस आ गई थी। इस घटना के कुछ ही दिन बाद ही लड़की की मां ने उसे जबरन वैश्‍यावृत्ति में धकेल दिया। इतना ही नहीं लड़की के भाई ने भी उसके साथ दुष्‍कर्म किया। पीडि़ता ने शिनिवार रात को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई तब जाकर अपनों द्वारा की जा रही हैवानियत का खुलासा हुआ। 

पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि उसकी मां पैसे के लिए एक साठ वर्षीय बुजुर्ग के साथ संबंध बनाने को लेकर दबाव डाल रही थी। पीडि़ता इन अत्‍याचारों के खिलाफ जब अपने भाई से मदद मांगने पहुंची तो उसने भी उसके साथ दुष्‍कर्म किया। यही नहीं उसने धमकी दी कि वह इस घटना का जिक्र किसी से न करे अन्‍यथा वह तलवार से उसका सिर धड़ से अलग कर देगा। पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (IPC) की विभिन्न धाराओं के तहत दुष्‍कर्म और अप्राकृतिक अपराधों, यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (POCSO) अधिनियम, अनैतिक तस्करी रोकथाम अधिनियम (PITA) और बाल विवाह रोकथाम अधिनियम (Child Marriage Prevention Act) के तहत मामला दर्ज किया है।

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप