नई दिल्ली। उद्योगपति और राजनेता नितिन गडकरी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं। महाराष्ट्र के नागपुर में जन्में गडकरी ने कामर्स, कानून और बिजनेस मेनजमेंट की शिक्षा ग्रहण की है।

उद्योग जगत में गडकरी बायो-डीजल पंप, एक चीनी मिल, एक लाख 20 हजार लीटर क्षमता वाले इथानॉल ब्लेन्डिंग संयत्र, 26 मेगावाट की क्षमता वाले बिजली संयंत्र, सोयाबीन संयंत्र और को जनरेशन ऊर्जा संयंत्र से जुड़े हैं। गडकरी ने 1976 में नागपुर विश्वविद्यालय में भाजपा की छात्र शाखा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से अपने राजनीतिक जीवन की शुरूआत की। बाद में वह 23 साल की उम्र में भारतीय जनता युवा मोर्चा के अध्यक्ष बने।

अपने ऊर्जावान व्यक्तित्व और सब को साथ लेकर चलने की ख़ूबी की वजह से वे सदा अपने वरिष्ठ नेताओं के प्रिय बने रहे। 1995 में वे महाराष्ट्र में शिव सेना- भाजपा की गठबंधन सरकार में लोक निर्माण मंत्री बनाए गए। 1989 में वे पहली बार विधान परिषद के लिए चुने गए। वे महाराष्ट्र विधान परिषद में विपक्ष के नेता भी रहे हैं। उन्होंने अपनी पहचान जमीन से जुड़े एक कार्यकर्ता के तौर पर बनाई है और वे एक राजनेता के साथ-साथ एक कृषक और एक उद्योगपति भी हैं।