नई दिल्ली [जागरण स्पेशल]। पाकिस्तान पर किया गया दूसरा सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike2), पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) का बदला है। ऐसे में एक बार फिर पुलावामा के 40 शहीद सीआरपीएफ जवानों के परिजन की आंखों में आंसू आ गए हैं। हालांकि, इस बार ये आंसू खुशी के हैं। पाकिस्तान पर हुई इस एयर स्ट्राइक (Air Strike) के बाद एक बार फिर शहीदों के परिवार का जोश हाई है। ऐसे में इस हमले को लेकर उनकी क्या प्रतिक्रिया है, ये भी हमारे लिए जानना जरूरी है।

1. शहीद अजीत सिंह की पत्नी बोलीं कलेजे को ठंडक पहुंची
उन्नाव के शहीद अजीत सिंह की मां राजवंती ने कहा पाकिस्तान पर हमला शहीद सैनिकों की माताओं के दिल को सुकून देने वाला है। हालांकि, केवल ठिकाने नष्ट करने से काम नहीं चलेगा। आतंकवाद का खात्मा करने के लिए सीधा हमला होना चाहिए। शहीद अजीत कुमार की पत्नी मीना ने कहा कि सुबह टीवी पर खबर सुनते ही कलेजे को ठंडक पहुंची, लेकिन और बड़ा हमला होना चाहिए। ये सर्जिकल स्ट्राइक हमारे सैनिकों की जांबाजी का प्रमाण है।

2. शहीद रमेश के परिजनों को सर्जिकल स्ट्राइक की खबर ने दी तसल्ली
वाराणसी के शहीद रमेश यादव के बड़े भाई राजेश यादव ने कहा ‘मोबाइल पर समाचार देख रहा हूं। पूरा परिवार गंगा किनारे रमेश के नारायणी संस्कार में शामिल है। लफ्जों में बयां नहीं कर सकता कि सर्जिकल स्ट्राइक की खबर को देख दिल का कितनी तसल्ली मिली है। वायुसेना की कार्रवाई से रहत मिली है, लेकिन यह कार्रवाई तब तक जारी रहनी चाहिए जब तक की पाकिस्तान से आतंकवाद का नमो निशान मिट नहीं जाता।

3. सेना ने अब जो शुरू किया है, उसे रोकना नहीं चाहिए
कन्नौज के शहीद प्रदीप सिंह के भाई कुलदीप ने इस कार्रवाई पर खुशी जताई है। उन्होंने कहा सेना ने अब जो शुरू किया है, उसे रोकना नहीं चाहिए। कार्रवाई तब तक जारी रहनी चाहिए, जब तक कि उनका जड़ से सफाया न हो जाए। सेना के इस कदम ने सिर्फ उनका ही नही देश के सभी शहीदों के परिजनों और देश के लोगों का सर गर्व से ऊंचा किया है।

4. शहीद अवधेश के पिता ने कहा, ऐसे ही मिले करारा जवाब
पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए अवधेश कुमार यादव के पिता हरकेश यादव ने कहा कि भारतीय सेना की कार्रवाई पर मुझे गर्व है। इससे बड़ी कार्रवाई की जरूरत है।

Surgical Strike2: शहीदों के परिजन बोले- अब पहुंची कलेजे में ठंडक

5. इससे हमारे जवानों का मनोबल बढ़ेगा
तरनतारन जिले के गांव गंडीविंड निवासी शहीद जवान सुखजिंदर सिंह की पत्नी सरबजीत कौर का कहना है कि आतंकी ठिकानों को ध्वस्त कर भारत ने अच्छा कदम उठाया है। भाई गुरजंट सिंह ने कहा कि भारतीय सेना द्वारा जिस तरह बदला लिया गया है, उससे हमारे जवानों का मनोबल बढ़ेगा। पिता गुरमेल सिंह व मां हरभजन कौर का कहना है कि शहीदों की कुर्बानी का बदला लेकर भारत ने अपने देश की शान बढ़ाई है।

6. पिछले वर्ष शहीद हुए औरंगजेब के पिता ने जताया संतोष
पिछले वर्ष कश्मीर में आतंकवादियों ने मेंढर, पुंछ के रहने वाले सिपाही औरंगजेब की अगवा कर हत्या कर दी थी। वह ईद की छुट्टी पर घर आ रहे थे। शहीद औरंगजेब के पिता मुहम्मद हनीफ भी पूर्व सैनिक हैं। सर्जिकल स्ट्राइक दो के बाद मुहम्मद हनीफ ने कहा कि इस तरह के हमलों से शहीदों को श्रद्धांजलि मिलेगी। हमें सरकार पर भरोसा था कि वह आतंकवाद की कमर तोड़ेंगे। उन्होंने देश से जो वादा किया था वह पूरा कर दिया। ऐसे हमलों को जारी रखना होगा तभी शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि मिलेगी और पाकिस्तान आतंकवादियों को भारत में भेजना बंद करेगा।

7. आतंकियों को इसी तरह से मारा जाना चाहिए
पुलवामा टेरर अटैक में शहीद हुए राजौरी के दोदासन बाला गांव निवासी हेड कांस्टेबल नसीर अहमद भी शामिल थे। शहीद हेड कांस्टेबल नसीर अहमद के बड़े भाई शहराज दीन का कहना है कि आतंकवादियों को इसी तरह से मारा जाना चाहिए। इस तरह के हमलों से शहीदों की आत्मा को शांति मिलेगी और एक बार इस तरह की कार्रवाई कर चुप नहीं बैठना चाहिए। इसके बाद भी इस तरह की कार्रवाई को अंजाम दिया जाना चाहिए।

8. आतंकवाद की कमर तोड़ दी इस एयर स्ट्राइक ने
परमवीर चक्र विजेता कैप्टन बाना सिंह ने कहा कि सीमा पार जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी कैंप पर वायुसेना की सर्जिकल स्ट्राइक ने आतंकवाद की कमर तोड़ी है। इस कार्रवाई से उन परिवारों को राहत मिली है जिन्होंने पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवादियों के हमलों में परिजन खोए हैं। ऐसे हालात में वायुसेना की कार्रवाई सिर्फ एक शुरूआत है। पूरी उम्मीद है कि आतंकवाद को जड़ से खत्म करने के लिए ऐसे और कदम भी उठाए जाएंगे।

9. सरकार से ऐसी ही उम्मीद थी
कानपुर देहात के शहीद श्यामबाबू के पिता रामप्रसाद को सुबह जैसे ही गांव के कुछ लोगों ने जानकारी दी तो कुछ देर के लिए चुप रहे और उनके आंखों से आंसू बह आए। उन्होंने कहा कि देश ने अपने खोये लालों का बदला ले लिया। पाकिस्तान को उसकी औकात बता दी। सरकार से ऐसी ही उम्मीद थी। शहीद के भाई कमलेश ने कहा, भारतीय सेना ने मेरे शहीद भाई का बदला ले लिया है। शहीद की पत्नी रूबी ने कहा, पति तो वापस नहीं आ सकते लेकिन भारतीय सेना ने जो किया उससे देश का सिर ऊंचा हो गया है।

10. जड़ से खत्म किया जाए आतंकवाद
इटावा के शहीद रामवकील के 12 वर्षीय पुत्र राहुल ने भारतीय वायु सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक पर खुशी जताई है। उसने कहा कि इससे भी बड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। आतंकवाद को जड़ से खत्म करने की जरूरत है।

11. बदला लेने पर सेना और सरकार को दिया धन्यवाद
पुलवामा हमले में देवरिया में भटनी के छपिया जयदेव निवासी शहीद विजय मौर्य के परिजन खुश हैं। पत्नी विजय लक्ष्मी ने इसके लिए सेना व सरकार दोनों को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि हमें सरकार से उम्मीद है कि इस घटना में जितने भी आतंकी शामिल हैं सबका सफाया कर दिया जाए। पिता रामायन मौर्य ने कहा कि वह सेना की कार्रवाई से बेहद खुश हैं। बड़े भाई अशोक मौर्य ने कहा जो हम चाहते थे, सरकार ने कर दिखाया।

12. पस्त होंगे दुश्मन के हौंसले
एक मई 2017 को पुंछ के कृष्णा घांटी में शहीद हुए देवरिया के भाटपाररानी तहसील के टीकमपार निवासी जवान प्रेमसागर की पत्नी ज्ञांती देवी का कहना है कि सेना ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद जो कार्रवाई की है, इससे आतंकी व दुश्मन के हौसले पस्त होंगे। सेना को यह कार्रवाई तब तक जारी रखनी चाहिए, जब तक आतंकवाद का नामो निशान न मिट जाए।

13. सेना की कार्रवाई पर गर्व है
गोरखपुर स्थिति महाराजगंज के शहीद पंकज त्रिपाठी के गांव में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद लोगों ने जश्नक मनाया। शहीद की पत्नी रोहिणी त्रिपाठी ने कहा कि इसी तरह भारतीय सेना को पाकिस्तान में घुस कर आतंकियों को मारना चाहिए। सेना की कार्रवाई पर गर्व है। पिता ओम प्रकाश त्रिपाठी ने कहा कि सेना की यह कार्रवाई तब तक चलनी चाहिए जब तक सभी आतंकियों का खात्मा न हो जाए। ताकि फिर किसी जवान को शहादत न देनी पड़े और उसके माता-पिता की बुढ़ापे की लाठी ना टूटे।

यह भी पढ़ें-
Surgical Strike2: कंधार विमान अपहरण में शामिल मसूद के दो भाई समेत 300 आतंकी ढेर
Surgical Strike2: मिराज में बैठ रक्षामंत्री ने दी थी पाक को चेतावनी, अब सही साबित हुई
Surgical Strike2: वायुसेना ने पाकिस्तान में बिछाई आतंकियों की लाशें, जानें- अब तक की 10 बड़ी बातें
Surgical Strike2: अपने नागरिकों से बोले पाक पीएम, किसी भी स्थिति के लिए तैयार रहें

Posted By: Amit Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप