नई दिल्ली, प्रेट्र । कश्मीरी छात्रों के उत्पीड़न की खबरों से चिंतित केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सभी मुख्यमंत्रियों से सभी राज्यों में उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा है। गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को यह एडवाइजरी भी जारी की है। इसमें ऐसे घटनाओं को अंजाम देने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की हिदायत दी गई है।

नई दिल्ली में राजनाथ सिंह ने संवाददाताओं से कहा, 'मैं सबसे अपील करता हूं कि कश्मीरी छात्रों को अपना भाई समझें और उनके साथ अच्छा बर्ताव करें।' देर शाम गृह मंत्रालय ने एक एडवाइजरी भी जारी की। इसमें कहा गया था कि सभी राज्य कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करें।

यह भी पढ़ें:  कश्मीर में सैनिकों पर हमले की मुझे जानकारी नहीं: नयनतारा

उल्लेखनीय है कि हाल ही में कुछ राज्यों में शिक्षण संस्थाओं में पढ़ रहे कश्मीरी छात्रों के साथ झड़पें होने की खबर सामने आ रही थीं। इसीलिए राज्य सरकारों और पुलिस प्रशासन से कहा गया है कि जम्मू और कश्मीर के छात्रों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए कड़े कदम उठाएं। राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों से अपील की गई है कि वह नोडल अफसरों को प्रेरित करें कि वह कश्मीरी छात्रों की शिकायतों पर अमल करें।

उल्लेखनीय है कि राजस्थान और उत्तर प्रदेश में कश्मीरी छात्रों से झड़प होने की खबरें थीं। खासकर उत्तर प्रदेश के मेरठ में लोगों ने यहां पढ़ रहे कश्मीरी छात्रों का विरोध किया था। पुलिस ने हिंदू संगठन उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के नेता आमिर जानी के खिलाफ एफआइआर दर्ज की है। यहां इस संगठन ने कश्मीरियों के बायकाट करने के पोस्टर-बैनर लगा कर उन्हें वापस लौट जाने को कहा था। पुलिस ने उन लोगों के खिलाफ भी रिपोर्ट दर्ज की है जो राज्य छोड़कर वापस कश्मीर घाटी लौटने को कह रहे थे।

Posted By: Sachin Bajpai

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप