श्रीनगर, एएनआइ। चिनार के कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्‍लन की जुलाई की एक तस्‍वीर अब जाकर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। दरअसल, तस्‍वीर में कोर कमांडर और एक कुत्‍ता एक दूसरे का अभिवादन यानि सैल्‍यूट करते दिख रहे हैं। यही इस तस्‍वीर की विशेषता है। इस तस्‍वीर की हकीकत आर्मी अधिकारियों ने एएनआइ को बताई।

उन्‍होंने बताया, 'अमरनाथ यात्रा के पहले दिन 1 जुलाई को कैमरे में इस क्षण को कैद किया गया था। जब कोर कमांडर अमरनाथ की गुफा में दर्शन के लिए जा रहे थे तब गुफा से करीब 50 मीटर की दूरी पर कुत्‍ता मेनका (Menaka) अपनी ड्यूटी पर तैनात था। कोर कमांडर जैसे ही वहां पहुंचे तब उसने सैल्‍यूट किया।'

परंपरा के अनुसार, भारतीय आर्मी के सभी सीनियर को सैल्‍यूट का जवाब देना होता है और इसलिए लेफ्टिनेंट जनरल ढिल्‍लन ने वापस सैल्‍यूट किया। ट्वीटर पर इस तस्‍वीर को रीट्वीट करते हुए लेफ्टिनेंट जनरल ने ट्वीट किया- एक बार में कइयों कि जिंदगियां बचाने वाले को सैल्‍यूट। आर्मी में ऑपरेशन के दौरान सैनिकों की टीम के साथ कुत्‍ते भी चलते हैं और आतंकियों व विस्‍फोटकों की पहचान करने में उनकी मदद करते हैं।

1983 में लेफ्टिनेंट जनरल ढिल्लन राजपूताना राइफल्स में शामिल हुए। फिलहाल वे 15वीं कोर के कमांडर की जिम्मेमदारी संभाल रहे हैं। कश्मीर में आतंकियों की पिन प्वाइंट ऑपरेशन में उन्होंंने अहम भूमिका निभाई।

आतंक निरोधी कार्रवाइयों में उनके योगदान के लिए अनेकों कुत्‍तों को गैलेंट्री मेडल से सम्‍म‍ानित किया जा चुका है। सेना की टीम के मदद के लिए उनकी टीम में शामिल किए गए कुत्‍ते, घोड़ों समेत कई जानवरों की देखभाल आर्मी के Remount Veterinary Corps (RVC) के जिम्‍मे होता है। 

यह भी पढ़ें: अब सेना के खोजी कुत्ते खंगालेंगे नशे की खेप, फिलहाल छह प्रशिक्षित कुत्तों को किया जा चुका है शामिल

यह भी पढ़ें: बिना स्नो ग्लास, जूतों के ऊंचे क्षेत्रों में तैनात रहते हैं सैनिक; नसीब नहीं होता ढंग का खाना

Posted By: Monika Minal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस