नई दिल्ली [जागरण न्यूज नेटवर्क]। भारत में दर्जनों आतंकी घटनाओं के जिम्मेदार यासीन भटकल को हिरासत में लेने और पूछताछ के लिए राज्यों में होड़ मच गई है। गुजरात, कर्नाटक, महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश ने इंडियन मुजाहिदीन के सह संस्थापक व दस लाख के इनामी आतंकी यासीन की गिरफ्तारी पर खुशी जाहिर करते हुए कहा है कि क्राइम ब्रांच व एटीएस की टीम भटकल से पूछताछ करेगी। साथ ही उसे रिमांड पर लिया जाएगा ताकि वर्षो से लंबित मामलों की जांच पूरी हो सके।

अहमदाबाद क्राइम ब्रांच के संयुक्त आयुक्त एके शर्मा ने कहा, यासीन के खिलाफ सूबे में 35 मामले दर्ज हैं। अहमदाबाद में 26 जुलाई 2008 में हुए श्रृंखलाबद्ध बम धमाकों के 20 मामले हैं। सत्तर मिनट के अंतराल में हुए इन धमाकों में 57 लोगों की मौत हुई थी। 200 से ज्यादा घायल हुए थे। आइएम के इस आतंकी ने सूरत के रिहायशी क्षेत्रों व हीरा प्रसंस्करण यूनिटों वाले इलाके में भी सीरियल ब्लास्ट की कोशिश की। पुलिस ने पेड़ों पर लगाए गए 18 बमों को निष्क्रिय कर बड़ा हादसा टाला था। इस मामले में यासीन के खिलाफ 15 मामले दर्ज किए थे। इन सभी में पूछताछ के लिए हम उसे हिरासत में दिए जाने की मांग करेंगे।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने कहा है कि पुलिस अफसरों का एक दल यासीन से पूछताछ के लिए भेजा जा रहा है। डीजीपी लालरोखुमा पचऊ ने कहा कि हमें बेंगलूर में हुए धमाकों में लंबे समय से यासीन की तलाश थी। हमें उसे इन धमाकों में उसकी भूमिका के बारे में पूछताछ करनी है। हालांकि यह भी कहा कि उसे हिरासत में लेकर यहां लाने में कुछ वक्त लगेगा। महाराष्ट्र के गृह मंत्री आरआर पाटिल ने कहा, मुंबई व पुणे की जर्मन बेस्ट बेकरी बम कांड के साथ ही यासीन पर महाराष्ट्र में आठ मामले हैं। एटीएस की टीम जल्द ही उससे पूछताछ करने जाएगी। वहीं आंध्र प्रदेश भी यासीन से पूछताछ करना चाहता है। हैदराबाद के पुलिस आयुक्त अनुराग शर्मा ने कहा, 21 फरवरी को शहर में हुए दो धमाकों में हमें भटकल से पूछताछ करनी है। पुलिस टीम जल्द ही उससे पूछताछ करने जाएगी, यदि धमाकों में उसकी संलिप्तता साबित हुई तो उसे हिरासत में यहां लाएंगे और पूछताछ करेंगे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप