मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

भोपाल एएनआइ। 11 सेकंड में 100 मीटर स्प्रिंट पूरा करने वाले स्प्रिंटर रामेश्वर गुर्जर ने सोमवार को अपना पहला ट्रायल रन दिया। इस दौरान रामेश्वर ने 13 सेकंड का समय लिया। शिवपुरी जिले के रहने वाले रामेश्वर को हाल ही में वायरल वीडियो में नंगे पैर 11 सेकंड में 100 मीटर दौड़ते हुए देखा गया था।

ट्रायल रन के बाद 24 वर्षीय स्प्रिंटर रामेश्वर गुर्जर ने कहा कि उन्हें पीठ में दर्द है और जूते पहनने से उनके प्रदर्शन पर असर पड़ा है। उन्होंने कहा कि मुझे नंगे पैर दौड़ने की आदत है। मैं एक महीने तक यहां रहूंगा और एक बार फिर से ट्रायल दूंगा।

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने अपने टि्वटर अकाउंट से रामेश्वर के ट्रायल का विडियो पोस्ट किया है। उन्होंने कहा कि रामेश्वर गुर्जर का ट्रायल टीटी नगर स्टेडियम में आयोजित किया गया, जहां साई और राज्य सरकार के कोच मौजूद थे। रामेश्वर विडियो में सबसे बाईं ओर दौड़ रहे हैं। खेल मंत्री ने कहा कि सुर्खियों में आने के चलते उन पर प्रदर्शन का दबाव इतना था कि वह अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए। हम उन्हें पूरा समय और ट्रेनिंग देंगे।'

वहीं, मध्य प्रदेश के खेल मंत्री जीतू पटवारी ने रामेश्वर के ट्रायल पर कहा कि आज वह 11 सेकंड का लक्ष्य हासिल नहीं कर पाए। वह यहां अभ्यास करेंगे और एक महीने तक प्रशिक्षण लेंगे। उन्होंने कहा कि रामेश्वर को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए अच्छे मांसपेशियों को विकसित करने की आवश्यकता है, जिसके लिए उन्हें अच्छी डाइट लेनी पड़ेगी।

रामेश्वर को ट्रेनिंग देने वाली कोच शिप्रा ने कहा कि रामेश्वर को खुद पर विश्वास रखना होगा और एक अच्छी डाइट लेनी पड़ेगी। फिलहाल वह पूरी कोशिश कर रहा है। वह बिना जूतों के दौड़ता था। इसी वजह से आज वह प्रयास में असफल रहा। उसकी टाइमिंग 13 सेकंड की थी।

स्प्रिंटर रामेश्वर गुर्जर ने कहा कि हमारे शिक्षक ने हमेशा मेरा समर्थन किया और मुझे दौड़ने के लिए प्रेरित किया। मैं देश के लिए दौड़ना चाहता हूं और पदक लाना चाहता हूं। अगर मुझे सरकार से अच्छा समर्थन मिलता है, तो मैं उसेन बोल्ट का रिकॉर्ड तोड़ सकता हूं।

Posted By: Manish Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप