नई दिल्ली, जेएनएन। महाराष्ट्र और राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत पूरे देश में पिछले 24 घंटे में सामने आए कोरोना संक्रमण के नए मामलों पर गौर करने से लगता है कि संक्रमण का प्रसार कुछ धीमा हुआ है। इस दौरान दोनों महानगरों में जहां नए मामलों में कमी आई है वहीं पूरे देश में एक दिन पहले मिले मामलों से मात्र साढ़े चार हजार अधिक केस पाए गए हैं। इससे पहले प्रतिदिन 20 हजार तक नए मामले बढ़ जा रहे थे। हालांकि नए मामलों में कमी की वजह कम जांच भी हो सकती है।

प्रमुख राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना की स्थिति

राज्य   नए केस      मौतें    संक्रमण दर (प्रतिशत में)

दिल्ली- 20,718       30     29.21

उत्तर प्रदेश- 15,795- 04     6.1

उत्तराखंड- 3,848     02     12.42

मध्य प्रदेश- 5,315    00      6.67

बिहार- 6,325          04       3.67

हिमाचल- 1,959      00       16.93

चंडीगढ़- 1,795       00       26.71

जम्मू-कश्मीर- 3,251  04    4.45

बंगाल- 19,064        39      29.52

कर्नाटक- 32,793      07      15

दिल्‍ली और मुंबई में कम हुए मामले

मुंबई और दिल्ली में मामले कम हुए हैं। मुंबई में शनिवार को कोरोना के 10,661 नए मामले सामने आए जबकि 11 मरीजों की मौत हो गई। महानगर में 73,518 सक्रिय मामले हैं। वहीं राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली में शनिवार को कोरोना संक्रमण के 20,718 नए मामले सामने आए जबकि 30 मरीजों की मौत हो गई। दिल्‍ली में संक्रमण दर 30.64 फीसद है। दिल्ली में 93407 एक्टिव केस हैं। 69 हजार 554 मरीज होम आइसोलेशन में जबकि 2518 अस्पतालों में भर्ती हैं। इसमें 887 आक्सीजन सपोर्ट पर और 113 मरीज वेंटिलेटर पर हैं।

यूपी में तेजी से बढ़ रहा संक्रमण

वहीं उत्तर प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर ने भी गति पकड़ ली है। यूपी में शनिवार को कोरोना के 15785 नए केस मिले जबकि चार लोगों की मौत हो गई। हैं। सूबे में एक्टिव केस भी 95148 तक पहुंच गए हैं। 75 में से 17 जिलों में एक्टिव केस एक हजार के ऊपर हैं। लखनऊ में सर्वाधिक 14596 केस हैं।

डरा रहे महाराष्‍ट्र और बंगाल के आंकड़े

महाराष्ट्र में कोरोना के 42,462 नए मामले सामने आए जबकि 23 संक्रमितों की मौत हो गई। महाराष्‍ट्र में 2,64,441 सक्रिय मामले हैं। महाराष्‍ट्र में ओमिक्रोन के 125 मामले दर्ज किए गए जिससे कोरोना के इस वैरिएंट के कुल मामलों की संख्या 1,730 हो गई है। पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 19,064 नए मामले सामने आए जबकि 39 लोगों की संक्रमण से मौत हो गई। बंगाल में 1,55,376 सक्रिय मामले हैं जबकि पाजिटिविटी रेट 29.52 फीसद है।

तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक में कम नहीं हो रहे केस

तमिलनाडु में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 23,989 नए मामले सामने आए जबकि 11 लोगों की मौत हो गई। सूबे में कुल 1,31,007 एक्टिव केस हैं। वहीं कर्नाटक में कोरोना के 32,793 नए मामले सामने आने के साथ ही पॉजिटिविटी दर बढ़कर 15 फीसद हो गई है। केरल में कोविड-19 के 17,755 नए मामले सामने आए जबकि 17 मरीजों की मौत हो गई। केरल में सक्रिय मामले 90,649 हैं। राज्‍य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 50,674 है।

जानें बाकी राज्‍यों का हाल

झारखंड में 15 जनवरी को 3,258 नए कोविड मामले सामने आए जबकि साल लोगों की मौत हो गई। राज्य में सक्रिय मामले 33,089 हैं। वहीं छत्तीसगढ़ में कोरोना के 5,525 नए मामले सामने आए जबकि आठ मरीज़ों की मौत हो गई। राज्‍य में 32,139 सक्रिय मामले हैं। असम में कोरोना के 3,390 नए मामले सामने आए जबकि चार मरीजों की मौत हो गई। असम में सक्रिय मामले 17,777 हैं। वहीं गोवा में कोरोना के 3,274 नए मामले सामने आए जबकि चार लोगों की संक्रमण से मौत हो गई। सूबे में 20,078 सक्रिय मामले हैं।

देश में एक दिन में 2,68,833 नए केस मिले

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से शनिवार सुबह आठ बजे अपडेट किए गए आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में देशभर में 2,68,833 नए केस मिले हैं। शुक्रवार को 2,64,202 केस मिले थे। इस तरह एक दिन पहले के मुकाबले शनिवार को चार हजार ही नए मामले अधिक मिले। इससे पहले गुरुवार को 2,47,417 और बुधवार को 1,94,720 नए केस मिले थे। इन दो दिनों में नए मामलों में 50 हजार से अधिक का अंतर था।

जांच में आई कमी

हालांकि पूरे देशभर में एक दिन पहले के मुकाबले जांच में भी कुछ कमी आई है, नए मामलों में गिरावट की एक बड़ी वजह यह भी हो सकती है। पिछले 24 घंटे में देशभर में करीब 16 लाख जांच की गई, जबकि उसके एक दिन पहले 18 लाख जांच की गई थी। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने तो राष्ट्रीय राजधानी में तीसरी लहर के चरम पर पहुंचने की आशंका जताई है। उनका यह भी कहना है कि आगे मामलों में और कमी आने की उम्मीद है।

देश में 402 और लोगों की मौत

इस दौरान पूरे देश में 402 और लोगों की मौत हुई है, जिसमें 199 अकेले केरल और 34 मौतें दिल्ली से हैं। सक्रिय मामले बढ़कर 14,17,820 हो गए हैं जो 223 दिन में सर्वाधिक और कुल मामलों का 3.85 प्रतिशत है। 24 घंटे में 1.45 लाख सक्रिय मामले बढ़े हैं। दैनिक संक्रमण दर 16.66 प्रतिशत और साप्ताहिक संक्रमण दर 12.84 प्रतिशत हो गई है।

एक दिन में 5.01 प्रतिशत बढ़े ओमिक्रोन के मामले

ओमिक्रोन के मामलों में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है और इसके कुल मामलों का आंकड़ा छह हजार को पार कर गया है। अब तक देशभर में ओमिक्रोन के 6,041 केस मिल चुके हैं, जिसमें सबसे अधिक महाराष्ट्र के 1,605 मामले शामिल हैं। अब तक 28 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में इसके मामले मिल चुके हैं। वैसे तीसरी लहर में बढ़ रहे मामलों के पीछे ओमिक्रोन को ही माना जा रहा है, लेकिन चूंकि सभी संक्रमितों की जीनोम सीक्वेंसिंग संभव नहीं है, इसलिए ओमिक्रोन के मामले कम सामने आ रहे हैं।

महाराष्ट्र में अभी भी सबसे प्रभावी वैरिएंट बना है डेल्टा

ओमिक्रोन के बढ़ते मामलों के बीच महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डा. प्रदीप व्यास ने कहा है कि राज्य में अभी भी डेल्टा प्रमुख वैरिएंट बना हुआ है। उन्होंने कहा कि नवंबर के बाद से 4,265 नमूनों की जीनोम सीक्वेंसिंग कराई गई थी जिसमें 68 प्रतिशत मामले डेल्टा वैरिएंट के मिले और 32 प्रतिशत ओमिक्रोन के। हालांकि, दिल्ली में इसके उलट है, क्योंकि कुछ दिन पहले ही राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा था कि राष्ट्रीय राजधानी में लगभग 80 प्रतिशत मामले ओमिक्रोन के मिल रहे हैं।