मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, जम्मू। जम्मू शहर के बीचोबीच बने नागरिक सचिवालय की छत पर स्थित मोर्चा नंबर 13 में सुरक्षा के लिए तैनात केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवान की गोली लगने से मौत हो गई। जवान को दो गोलियां लगीं, जो उसकी सर्विस राइफल से चली थीं।

पुलिसकर्मियों ने मौके पर पहुंच कर शव को अपने कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम करवाने के लिए सीआरपीएफ अधिकारियों को सौंप दिया। मृतक की पहचान कांस्टेबल पी राम कुमार पुत्र आर प्लानी स्वामी निवासी कासिम व्याल, जिला निलगरिस, तमिलनाडु के रूप में हुई।

वहीं, नागरिक सचिवालय की छत से गोली चलने की आवाज से वहां दहशत फैल गई। मौजूदा समय में सचिवालय का कामकाज कश्मीर में चल रहा है, जिसके कारण सचिवालय की इमारत में केवल सुरक्षाकर्मी हीं तैनात हैं। गोली चलने की यह घटना रविवार शाम करीब चार बजे की है। इमारत की छत पर सुरक्षाकर्मियों का मोर्चा बना है। वहां ड्यूटी पर कांस्टेबल पी राम कुमार तैनात था।

अचानक गोली चलने की आवाज से वहां तैनात सुरक्षाकर्मी सचिवालय की छत की और दौड़े। जवानों ने मोर्चे के भीतर कांस्टेबल का खून से सना हुआ शव देखा। कांस्टेबल का शव मोर्चे के अंदर बेंच पर पड़ा था। उसे दो गोलियां लगी थीं। राइफल को दोनों टांगों के बीच टिका कर रखा गया था।

गोलियां गर्दन के ऊपरी हिस्से से लगीं और सिर के रास्ते बाहर निकल गई थीं। घटना के बारे में पक्काडंगा पुलिस को सूचित किया गया। मौके पर पहुंचे एसएचओ पक्काडंगा सुनील गुप्ता ने फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी के अधिकारियों को बुला कर सुबूतों को जुटा लिया।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप