राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : जम्मू संभाग के कठुआ के रसाना गांव में आठ वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म व हत्या के मामले में मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने जल्द न्याय दिलाने के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन का संकेत दिया है। उन्होंने राज्य हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रामालिंगम सुधाकर को एक पत्र लिखा है।

सूत्रों की मानें तो सत्ताधारी पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की कार्यकारिणी की बैठक से पहले महबूबा ने अपने कुछ खास लोगों के साथ राज्य के हालात पर चर्चा करते हुए फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन की इच्छा जताई है। मुख्यमंत्री चाहती हैं कि फास्ट ट्रैक कोर्ट में नियमित न्यायधीश हो जो इस मामले की लगातार सुनवाई करते हुए इसे ज्यादा से ज्यादा 90 दिनों में पूरा कर दोषियों को कठोर दंड दे। सूत्रों की मानें तो यह राज्य में अपनी तरह की पहली फास्ट ट्रैक कोर्ट होगी। पीडीपी के सूत्रों की मानें तो रसाना मामले में लिप्त सभी पुलिस अधिकारियों और अन्य सरकारी कर्मियों की सेवाएं समाप्त करने की दिशा में सरकार आवश्यक कार्रवाई कर रही है।

Posted By: Jagran News Network

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस