नई दिल्ली (एजेंसी)। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार ने कहा कि कांग्रेस अब ‘कमजोर’ हो गयी है और भाजपा को रोकने के लिए उसके पास क्षेत्रीय दलों से महागठबंधन करने के अलावा और कोई विकल्प नहीं बचा है।

पवार ने अपनी आत्मकथा ‘अपनी शर्तों पर: जमीनी हकीकत से सत्ता के गलियारों तक’ में पवार ने लिखा है, ‘मौजूदा राजनीतिक परिस्थितियों को देखते हुये कांग्रेस के लिए राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा के विकल्प के रूप में उभरने का कार्य चुनौतीपूर्ण दिख रहा है। कांग्रेस के पास भाजपा की बढ़त को रोकने के लिए छोटे और क्षेत्रीय दलों से हाथ मिलाने के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं बचा है।’

पवार ने कहा कि मनमोहन सिंह ने एक दशक लंबे यूपीए सरकार के दौरान ऐसी क्षमता दिखायी थी, लेकिन हमें यह नहीं भूलना चाहिये कि यूपीए के दिनों के मुकाबले कांग्रेस आज कमजोर है। इससे पहले इस तरह की टिप्पणी कई और विपक्षी नेता भी कर चुके हैं। जनता दल यूनाइटेड (जेडीय) और वाम दलों समेत कुछ विपक्षी नेताओं ने बीजेपी को रोकने के लिए ‘विपक्षी एकता’का आह्वान किया था।

पवार ने कहा कि सिर्फ भाजपा और कांग्रेस ही ऐसे दो दल हैं जिनकी मौजूदगी लगभग परे भारत में है, परंतु इनकी राजनीति व्यक्तिवाद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के इर्द गिर्द घूमती है।

यह भी पढ़ें: चुनाव: महागठबंधन व एनडीए में हुआ बराबरी का हिसाब, मिलीं दो-दो सीटें

यह भी पढ़ें: केसी त्यागी ने कहा, दो बड़ी पार्टियों के अहम की वजह से यूपी में गठबंधन नहीं हुआ

Posted By: Kishor Joshi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप