नई दिल्ली, एजेंसी। School Reopening Latest News : देश में कोरोना की दूसरी लहर पर लगाम कस गई है और अधिकांश राज्य अब अनलॉक की ओर बढ़ चुके हैं। राज्यों में टीकाकरण का कार्यक्रम जोर-शोर से जारी है और ज्यादा से ज्यादा राज्यों में कोरोना कर्फ्यू हट चुका है। ऐसे में स्कूली छात्र और अभिभावक यह जानना चाहते हैं कि स्कूल कब से खुलेंगे? बता दें कि देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर चल रही है और तीसरी लहर आने की पूरी संभावना बताई जा रही है। इस खतरे की वजह से ही देश में सीबीएसई और आईसीएससी बोर्ड के अलावा कई अन्य स्टेट बोर्ड ने भी 10वीं और 12वीं की परीक्षाक्षों को रद कर दिया है। ऐसे में स्कूल खोलने को लेकर अभी भी असमंजस की स्थिति बनी हुई है। आइए जानते हैं कि यूपी, बिहार, दिल्ली, मध्य प्रदेश सरकार स्कूल कॉलेज खोलने को लेकर क्या कह रहे हैं। 

क्या उत्तर प्रदेश में एक जुलाई से स्कूल खुलेंगे ?

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच यूपी सरकार ने 30 जून तक के लिए सभी स्कूलों को बंद कर दिया था। ऐसे में सवाल यह है कि क्या एक जुलाई से उत्तर प्रदेश में स्कूल खुल जायेंगे? अगर स्कूल खुलेंगे भी तो क्या बच्चों का जाना अनिवार्य होगा? क्या पिछली बार की तरह ही बच्चों को अभिभावकों से अनुमति लेकर अपनी इच्छा से स्कूल जाने की अनुमति होगी? इन तमाम सवालों का जवाब देते हुए प्रदेश के शिक्षा विभाग के अधिकारी पीएन सिंह ने मीडिया को बताया कि प्रदेश में स्कूल एक जुलाई से खुल तो सकते हैं, लेकिन अभी बच्चों को स्कूल नहीं बुलाया जायेगा। हां टीचर्स को स्कूल बुलाया जा सकता है। 10 और 12वीं की बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट के निर्धारण में ये टीचर्स अपनी भूमिका निभा सकते हैं। हालांकि स्कूल खुलने को लेकर अभी कोई आदेश सरकार की तरफ से नहीं आया है। सरकार के आदेश पर ही स्कूल 30 जून तक के लिए बंद हुए हैं और उनके आदेश पर ही आगे खुलेंगे।

दिल्ली में स्कूल और कॉलेज खुलेंगे या नहीं, जानें- सीएम केजरीवाल ने क्या कहा

सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान फिलहाल सभी शिक्षण संस्थानों को बंद ही रखने का फैसला किया है। छात्रों की सुरक्षा के लिए संभावित तीसरी कोरोनावायरस लहर को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकारें ऑनलाइन कक्षाओं को ज्यादा बढ़ावा दे रही हैं। पहले स्कूलों को खोलने की योजना में स्वच्छता और सामाजिक दूरी शामिल थी, लेकिन बाद में टीकाकरण अभियान के लिए स्कूलों का उपयोग करने पर चर्चा हुई। बता दें कि दिल्ली के स्कूलों ने जनवरी में कक्षा 10 और 12 के लिए कुछ समय के लिए और स्वैच्छिक आधार पर ऑफलाइन कक्षाएं फिर से शुरू की थीं, जबकि कक्षा 9 और 11 के लिए, स्कूलों को फरवरी में फिर से खोल दिया गया था। हालांकि, कोरोनोवायरस मामलों को बढ़ता देख इसे फिर से बंद कर दिया गया था।

बिहार में कब से खुलेंगे स्कूल-कॉलेज? शिक्षा मंत्री ने दिया ये जवाब

कोरोना संक्रमण में सुधार की स्थिति यही रही तो अगले माह से बिहार के शैक्षणिक संस्थान खुल जायेंगे। शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि कोरोना संक्रमण की स्थिति इसी प्रकार सुधरती रही तो राज्य सरकार और शिक्षा विभाग दोनों ही शैक्षिक संस्थान खोलने के पक्ष में है। 5 अप्रैल से बंद राज्य के शैक्षणिक संस्थान चरणबद्ध ढंग से खुलेंगे। पहले उच्च शिक्षा के संस्थान खोले जायेंगे। फिर उच्च माध्यमिक और माध्यमिक। उसके बाद मध्य विद्यालय खोले जायेंगे और सबसे अंत में प्राथमिक विद्यालय खुलेंगे। शिक्षा मंत्री ने कहा कि लगातार सालभर से अधिक से राज्यभर के शैक्षणिक संस्थान बंद हैं। इसका बच्चों के शैक्षणिक कॅरियर और सीखने की क्षमता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। इसलिए सरकार और विभाग की चाहत है कि हालात बेहतर रहे तो जुलाई में शैक्षणिक संस्थान खोल दिए जायें।

हरियाणा में 30 जून तक बंद रहेंगे स्कूल, कल से लगेंगी ऑनलाइन क्लास

हरियाणा सरकार ने प्रदेश के सभी स्कूलों में बच्चों की छुट्टियां 30 जून तक बढ़ा दी हैं। 16 जून से बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई शुरू हो जाएगी। शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा कि सभी सरकारी व निजी स्कूल बच्चों के लिए 15 दिन और बंद रहेंगे। बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई की समय सारिणी जारी कर दी गई है। उसी के अनुसार शिक्षक बुधवार से बच्चों को पढ़ाएंगे। हालात पूरी तरह सामान्य होने पर ही स्कूलों को खोला जाएगा। अभी जल्दबाजी में कोई निर्णय नहीं लेंगे। कोरोना का खतरा अभी पूरी तरह टला नहीं है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने तीसरी लहर की आशंका भी जताई है, इसलिए सतर्क रहने की जरूरत है।  

मध्य प्रदेश में कब से खुलेंगे पहली से 12वीं तक के स्कूल

कोरोना संक्रमण की रफ्तार में कमी आने के बाद मध्य प्रदेश के प्राइवेट स्कूलों में एडमिशन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि प्रदेश में कक्षा पहली से 12वीं तक के स्कूलों को जल्द खोला जाएगा। इस संबंध में स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा कि अभी स्कूलों को खोलने को लेकर स्थिति साफ नहीं है। इस संबंध में बाद में फैसला लिया जाएगा। ऐसे में कहा जा रहा है कि अभी कोरोना की तीसरी लहर आने वाली है। जिससे बच्चों को सबसे ज्यादा खतरा होगा। इसलिए तीसरी लहर के बाद ही स्कूलों को खोला जाएगा। साथ ही सबसे पहले बड़ी कक्षाओं यानि कि 9वीं से 12वीं तक ही स्कूलों को खोला जाएगा।