नई दिल्‍ली (जेएनएन)। निकाह हलाला के साथ बहुविवाह का विरोध करने वाली बुलंदशहर की महिला शबनम रानी पर तेजाब फेंके जाने के बाद शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार व उत्‍तर प्रदेश सरकार के एएजी को नोटिस जारी किया है। मामले में आगे की सुनवाई सोमवार को होगी। तीन तलाक पीड़िता ने हलाला तथा बहुविवाह के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी दायर कर रखी है।

शबनम को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। तेजाब हमले के बाद शबनम रानी की हालत गंभीर बनी हुई है।

उल्‍लेखनीय है कि पुलिस ने शबनम पर तेजाब डालने वाले दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। शबनम का देवर मुजाहिद और पूर्व प्रधान हामिद गिरफ्तार किया गया है। इन्हीं पर तेजाब डालने का आरोप था ।

हलाला के खिलाफ जंग लड़ रही तीन तलाक पीड़िता शबनम रानी दिल्ली की रहने वाली है और ससुराल बुलंदशहर के अगौता थाना क्षेत्र के जौलीगढ़ में है। दिल्ली निवासी शबनम का विवाह जौलीगढ़ में मुजम्मिल से हुआ था। शबनम के तीन बच्चे है। मुजम्मिल ने शबनम को तीन तलाक दे दिया। तीन तलाक के बाद शबनम को अपने देवर से हलाला करने का फरमान सुनाया गया था। शबनम ने हलाला और बहु विवाह को लेकर सुप्रीम कोर्ट में रिट दायर की हुई है।

Posted By: Monika Minal