नई दिल्ली/कोलकाता। सीबीआइ शारदा घोटाला में तृणमूल सांसद मुकुल रॉय से पूछताछ करेगी। पूछताछ 30 जनवरी को होगी।

इस बीच, कोलकाता पहुंचे तृकां नेता मुकुल रॉय ने कहा कि वे जांच को तैयार हैं।

इससे पहले मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में सारधा चिटफंड घोटाले से संबंधित तीन मामलों पर होने वाली सुनवाई प्रक्रिया फिर से टल गई थी। तीनों मामलों पर मंगलवार को ही सुनवाई होनी थी लेकिन न्यायाधीश टीएस ठाकुर और न्यायाधीश सी नागप्पन दोनों के कालेजियाम की मीटिंग में व्यस्त होने की वजह से सुनवाई को टाल दिया गया।

सुनवाई तारीख आगे बढऩे से तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव मुकुल राय की समस्या फिर से बढ़ गई है। सुनवाई का हवाला देकर सीबीआइ के समक्ष हाजिर होने से बच रहे मुकुल को 30 जनवरी सीबीआइ के समक्ष पेश होना है। अदालत से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार दोपहर 2.45 बजे सुनवाई शुरू होने की बात थी। दोनों पक्षों के वकील भी निर्धारित समय पर अदालत कक्ष में पहुंच चुके थे। सब सुनवाई शुरू होने का इंतजार कर रहे थे और तभी खबर आई कि मामले पर सुनवाई करने वाले दोनों न्यायाधीश कालेजियम की बैठक में व्यस्त हैं। सुनवाई की अगली तारीख एक-दो दिनों के अंदर निर्धारित की जाएगी। इन तीनों मामलों में पहला मामला राज्य सरकार की ओर से सारधा घोटाले की सीबीआइ जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में कराने की मांग को लेकर दायर किया गया था। इसी आरोप को लेकर तृणमूल कांग्रेस से महासचिव महुआ मेत्रे ने भी एक मामला किया था। तीसरा मामला कांग्रेस नेता अब्दुल मन्नान ने मामले की जांच में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, कानून मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य और विधानसभा की डिप्टी स्पीकर व विधाननगर नगरपालिका की चेयरपर्सन कृष्णा चक्रवर्ती समेत छह लोगों के खिलाफ अदालतीअवमानना का मामला दायर किया था।

गौरतलब है कि राज्य सरकार की तरफ से 19 जनवरी को मामला दायर किया गया था। इस पर सुनवाई 21 जनवरी को होनी थी। सुनवाई से एक दिन पहलेअदालत की तरफ से कहा गया कि न्यायाधीश सी. नागप्पन की तबीयत खराब है और ऐसी स्थिति में वे अदालत में हाजिर नहीं हो सकते हैं। इस दिन की सुनवाई प्रक्रिया टाल दी गई। इसके बाद सुनवाई की अगली तारीख 27 जनवरी निर्धारित की गई थी। इस दिन अदालत में सरकार पक्ष के वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल अपने निर्धारित समय पर ही पहुंचे। इससे निर्धारित हो गया कि सरकार पक्ष की तरफ से कपिल सिब्बल ही मामला लड़ेंगे।

मुकुल के विधायक पुत्र पर भी सीबीआई की नजर

सीबीआई पर अंकुश के लिए सुप्रीम कोर्ट जाएंगी ममता

Posted By: Rajesh Niranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस