नई दिल्ली। पीएम के विदेशी दोरों के समय आमतौर पर एयरइंडिया वन की फ्लाइट्स में शराब परोसा जाता रहा है। विदेशी दौरों के समय अधिकारी शराब का लुत्फ भी उठाते रहे हैं। लेकिन पीएम मोदी के विदेश दौरों के समय अधिकारियों को शराब से मरहूम होना पड़ता है। वजह है कि पीएम की फ्लाइट में शराब नहीं परोसी जाती है। इसके लिए खास निर्देश भी जारी किए गए हैं।

सऊदी और यूएई के बाद अह ईरान का दौरा करेंगे पीएम

पीएम और दूसरे खास लोगों के लिए एयर इंडिया के बोइंग 747 का इस्तेमाल किया जाता है। जिसकी औसत उम्र 25 साल है। बताया जाता है कि यात्रा के दौरान अधिकारियों के पास केवल एक ही विकल्प होता है या तो वे विमान में सो कर आराम करें या पीएम की मीटिंग के लिए आवश्यक दस्तावेजों पर अपना दिमाग खर्च करें। फ्लाट्स में शराब न परोसे जाने की एक खास वजह भी है। पीएम मोदी पूरी तरह से शाकाहारी हैं और वे खुद शराब का सेवन नहीं करते हैं।

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक फ्लाइट्स में खानपान के बारे में विदेश मंत्रालय फैसला लेता है। पीएम के लिए मेन्यू में शाकाहारी भोजन का प्रबंध किया जाता है। जबकि अधिकारियों के लिए नॉन वेज के इस्तेमाल पर किसी तरह का प्रतिबंध नहीं है।

बिहार के आधे मंत्री-विधायक पीते हैं शराब-सुमो

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021