अमरोहा, जागरण संवाददाता। योग गुरु स्वामी रामदेव देश भर में पांच लाख आचार्य कुलम बनाएंगे। इनमें भारतीय संस्कृति को बढ़ावा देने वाली वेद आधारित शिक्षा दी जाएगी। अमरोहा के गुरुकुल महाविद्यालय चोटीपुरा में उन्होंने इसकी घोषणा की।

रविवार को महाविद्यालय में संकल्प शिक्षा-सदनम विद्यालय का शिलान्यास करने आए योग गुरु ने गुरुकुल परंपरा का निर्वहन करते हुए छात्रावास में रहकर पढ़ाई कर रही छात्राओं की प्रशंसा करते हुए कहा कि वे भारतीय संस्कृति की सच्ची वाहक हैं, जो अपने परिजनों से दूर रहकर शिक्षा ग्रहण कर रही हैं। उन्होंने कहा कि इस परंपरा को विस्तार देने की जरूरत है, क्योंकि लार्ड मैकाले ने अंगे्रजी शिक्षा के जरिये भारतीय संस्कृति को चोट पहुंचायी है। अब समय आ गया है कि दोबारा से वेदों की तरफ लौटा जाए।

उन्होंने घोषणा की कि वह देश भर में पांच लाख आचार्य कुलम बनाएंगे, जो वेदों की शिक्षा पर आधारित होंगे। इसी बीच पत्रकारों से बातचीत में बाबा रामदेव ने काले धन को लेकर केंद्र की तरफ से हो रही कार्रवाई को शानदार बताया। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि वह आलोचना करने वालों के टेप रिकॉर्ड पर नहीं बल्कि ट्रैक रिकॉर्ड पर विश्वास करते हैं और मोदी का टै्रक रिकॉर्ड बेहतरीन है। उन्होंने उम्मीद जताई कि कालाधन वापस आएगा। यदि केंद्र सरकार इसमें विफल दिखती है तो उनके लिए आंदोलन के रास्ते भी खुले हैं, हरियाणा के बाबा रामपाल को लेकर सिर्फ इतनी टिप्पणी की कि जो बाबा होते हैं, वह पाखंडी नहीं होते और जो पाखंडी होते हैं, वह बाबा नहीं होते।

पढ़ें: कालेधन पर रामदेव ने दी मोदी सरकार को चेतावनी

बाबा रामदेव को केंद्र ने दी जेड श्रेणी की सुरक्षा

Posted By: Kamal Verma