नई दिल्ली। हाल ही में पारित खाद्य सुरक्षा विधेयक देश के लिए आर्थिक संकट के हालात पैदा कर सकता है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि उनका राज्य बेहतर स्वास्थ्य, फायदेमंद रोजगार और जोखिम व कर्ज मुक्त भविष्य की ओर बढ़ रहा है।

पढ़ें: खाद्य सुरक्षा की हकीकत, 35 किलो गेहूं के लिए देने पड़ेंगे 520 रुपये

रमन सिंह के मुताबिक वह समझ चुके हैं कि जन कल्याण की योजनाओं को चलाते रहने के लिए किसी भी राज्य का आर्थिक तौर पर मजबूत होना जरूरी है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार का खाद्य सुरक्षा कानून, 2013 भारत के लिए वित्तीय संकट पैदा कर सकता है। उनके मुताबिक, छत्तीसगढ़ ने कानून को राज्य के सकल घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) के 1.4 फीसद के अंदर ही इसे लागू कर दिया है। साथ ही अपने वित्तीय घाटे को जीएसडीपी के तीन फीसद के तर्कसंगत दायरे में सीमित रखा है।

भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा कराए गए कई अध्ययनों में राज्य को देश के तीन सबसे बेहतर वित्तीय प्रदर्शन करने वाले राज्यों में रखा गया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस