कृष्णा (आंध्र प्रदेश) एएनआइ। साइक्लोन अम्फान (Amphan Cyclone) ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल के कई इलाकों में तबाही मचाने के बाद। दोनों राज्यों में 10 से 12 लोगों की मौत हो चुकी है। इसी बीच आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले में शनिवार को बिजली और गरज के साथ भारी बारिश से सड़कों पर काफी नुकसान हुआ और बिजली आपूर्ति बाधित हुई। सड़क पर पेड़ गिर गए और बिजली के पोल उखड़ गए। इसने क्षेत्र में आम की फसल को काफी नुकसान पहुंचाया है।

हाल ही में  पश्चिम बंगाल में अम्फान तूफान ने कहर मचाया था। जिससे बाकी हिस्सों में प्रचंड गर्मी का प्रकोप देखा जा रहा है। इसी बीच भारतीय मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि राजस्थान, मध्य प्रजेश में आने वाले पांच दिनो तक लू जारी रहेगी। जारी किए गए अलर्ट में कहा गया है कि आने वाले 24 घंटों में राजस्थान के कुछ इलाके  भीषण लू की चपेट में आ  सकते हैं। 

पश्चिम बंगाल में इस तूफान ने काफी तबाही मचाई हुई है। इससे प्रदेश में लगभग 85 लोगों की जान चली गई है। इसके अलावा बड़ी संख्या में पेड़ टूटने के कारण बिजली की आपूर्ती बाधित हो गई है। लोगों को पीने के पानी की किल्लत का भी सामना करना पड़ रहा है। वहीं, पानी इकट्ठा हो जाने की वजह से मुसीबत और बढ़ा दी है। प्रदेश सरकार ने हालात जल्द ठीक करने के लिए सेना की मदद मांगी है। 

ओडिशा में भीषण चक्रवाती तूफान 'अम्फान' की तबाही के कारण यहां के दस जिलों में रहने वाले लोगों के जीवन को बुरी तरह प्रभावित किया हुआ है।ओडिशा में चक्रवाती तूफान से करीब एक लाख हेक्टेयर फसल क्षेत्र को नुकसान हुआ है। तूफान इम्फान की वजह से फसलों को काफी नुकसान हो रहा है। 

कहा जा रहा है कि सुपर साइक्लोन अम्फान की वजह से जो फसलों के नुकसान पहुंचा है। फिलहाल, इसका आकलन किया जा रहा है और 26 मई तक इसके पूरा हो जाने की संभावना है।

Posted By: Ayushi Tyagi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस