कोलकाता, जागरण संवाददाता। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध के चलते बीते दो दिनों में दक्षिण पूर्व रेलवे और पूर्व रेलवे के विभिन्न स्टेशनों में तोड़फोड़ और आगजनी से रेलवे को 100 करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान हुआ है। रेल सूत्रों के अनुसार बीते शुक्रवार और शनिवार को उलूबेरिया, बाउडि़या, सांकराइल, नलपुर स्टेशनों में उत्पातियों द्वारा तोड़फोड़ और आगजनी तथा घटनाओं की वजह से ट्रेनें रद किए जाने से अकेले दक्षिण पूर्व रेलवे को 15,77,33,779 करोड़ का नुकसान उठाना पड़ा।

उधर, पूर्व रेलवे के बेलडांगा, सुजनीपाड़ा, कृष्णपुर, लालगोला समेत अन्य स्टेशनों व ट्रेनों में तोड़फोड़, आगजनी की घटनाओं से 85 करोड़ से अधिक का नुकसान होने का अनुमान है।रेलवे को हिसा की वजह से कुल मिलाकर बीते दो दिनों में सौ करोड़ से अधिक का नुकसान होना बताया गया है।

 बर्दाश्त नहीं हिंसा, सख्ती से निपटे प्रशासन : ममता

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने रविवार देर शाम अपने आवास पर आला अधिकारियों की की एक बैठक बुलाई। इसमें स्पष्ट कहा कि हिंसक प्रदर्शन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पुलिस प्रशासन को इससे सख्ती से निपटना होगा। बैठक में मुख्य सचिव, गृह सचिव, राज्य के पुलिस महानिदेशक समेत कई आला अधिकारी उपस्थित रहे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सांप्रदायिक शक्तियों की आड़ में कुछ लोग राज्य को अशांत करने की कोशिश कर रहे हैं और इस तरह का हिंसक विरोध प्रदर्शन और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाना किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि विरोध शांतिपूर्वक होना चाहिए।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस