चंडीगढ़ [जेएनएन]। बहुचर्चित ड्रग माफिया जगदीश सिंह भोला ने सोमवार को पूरे ड्रग मामले में पंजाब के एक वरिष्ठ मंत्री, ड्रग रैकेट का पर्दाफाश करने वाले एसएसपी तथा जांच टीम पर गंभीर आरोप लगाकर सनसनी फैला दी। जगदीश भोला ने पत्रकारों से कहा कि सारे ड्रग रैकेट में पंजाब के मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया की मिलीभगत है। भोला ने कहा कि उसने मामले की जांच सीबीआइ से कराने की मांग की थी किंतु मुख्यमंत्री ने उसकी मांग मानने से इन्कार कर दिया है। याद रहे कि यह वही ड्रग रैकेट है जिसमें ओलंपियन मुक्केबाज विजेंद्र का नाम भी आया था।

इस बीच कांग्रेस के प्रदेश प्रधान प्रताप सिंह बाजवा ने कहा कि वह सात जनवरी को पंजाब एवं हरियाणा हाइकोर्ट में इस मामले की सीबीआइ से जांच करवाने के लिए अपील दायर करेंगे, ताकि सच्चाई सामने आ सके।

उधर उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि भोला जानबूझ कर ऐसे आरोप लगा रहा है। यहां प्रेस कान्फ्रेंस में सुखबीर ने कहा कि यदि कोई मंत्री इसमें शामिल होता तो पुलिस शायद भोला को उसके दबाव में न पकड़ती।

भोला के वकील गोपाल सिंह नहल ने भी कहा कि वह पुलिस की कथित धक्केशाही के खिलाफ पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय में जा रहे हैं, जहां जगदीश भोला के मामले में जांच सीबीआइ से कराने की मांग की जाएगी।

दूसरी ओर उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि पंजाब पुलिस भोला से काफी कुछ उगलवा चुकी है। करोड़ों रुपये की तस्करी उसने स्वीकार की है। पंजाब पुलिस अपनी जांच में काफी आगे जा चुकी है और वह जांच से बचने और इसे भटकाने के लिए इस तरह के हथकंडे अपना रहा है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप