जागरण संवाददाता, दार्जिलिंग। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की चेतावनी के तीसरे दिन आखिर गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (गोजमुमो) के नेताओं ने अपने कदम पीछे खींच लिए। उन्होंने पहाड़ पर जारी बेमियादी बंद के 11वें दिन सोमवार को महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए 15 से 18 अगस्त तक बंद स्थगित करने का फैसला किया है। हालांकि मंगलवार-बुधवार को घोषित जनता क‌र्फ्यू यथावत रहेगा। इस दौरान पुलिस ने 16 बंद समर्थकों को गिरफ्तार किया है।

गोजमुमो केंद्रीय समिति की बैठक के बाद महासचिव रोशन गिरि ने बताया कि 'जनता को हो रही असुविधा को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है।' उन्होंने कहा कि जीटीए सदस्य उचित समय पर ही इस्तीफा देंगे। गोजमुमो के केंद्रीय प्रवक्ता डॉ. एचबी क्षेत्री ने बताया कि 13 व 14 अगस्त को पूर्व घोषित 'जनता क‌र्फ्यू' लागू किया जाएगा। इस दिन लोग घरों में कैद रहेंगे और सड़क पर नहीं निकलेंगे। पुलिस अधीक्षक कुणाल अग्रवाल ने बताया कि बंद व आंदोलन को लेकर विभिन्न आरोपों में एक जीटीए सदस्य सहित 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इस दौरान 11वें दिन भी पहाड़ पर बंद का असर दिखा और समर्थकों ने प्रदर्शन किए। सभी प्रतिष्ठान बंद रहे और सड़कों पर वाहन नहीं चले। हालांकि आवश्यक सेवाओं को बंद से मुक्त रखा गया। सड़कों पर पुलिस के जवान दिनभर गश्त करते दिखे।

बोडोलैंड में 100 घंटे की आर्थिक नाकेबंदी आज से

गुवाहाटी। अलग बोडोलैंड राज्य पर त्रिपक्षीय वार्ता के लिए केंद्र या राज्य सरकार की तरफ से सोमवार शाम तक कोई पहल नहीं होने के बाद संगठनों ने 13 अगस्त मंगलवार से बोडोलैंड में 100 घंटे की आथिक नाकेबंदी का एलान किया है। संगठनों की समिति के संयोजक भ्रमण बागलारी ने बताया कि सरकार को सोमवार तक समय दिया गया था।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस