मुंबई। राज ठाकरे और एनसीपी के पार्टी कार्यकताओं और उनके बीच हुई झड़पों में अब एक नया खुलासा सामने आया है। मुंबई पुलिस में दर्ज एक एफआईआर के मुताबिक एमएनएस कार्यकर्ताओं ने अपने मुखिया राज ठाकर को खुश करने के लिए 35,000 रुपए में एक पुरानी मारुति 800 खरीदी और उसमें आग लगा दी। ऐसा उन्होंने सिर्फ सुर्खियां बटोरने के लिए किया। इसको बहुत योजनाबद्ध तरीके से अंजाम दिया गया। हालांकि एमएनएस ने इस आरोप को खारिज किया है।

यह घटना बुधवार को सेंट्रल मुंबई के कुर्ला में एलबीएस मार्ग पर हुई। इसी घटना के बाद एमएनएस ने कहा कि राज ठाकरे की कार पर एनसीपी कार्यकर्ताओं के पथराव के बाद जनता ने अपना गुस्सा कार को फूंककर निकाला। पुलिस ने कार फूंकने वाले एमएनएस के चार कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार भी कर लिया है। एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक का कहना है कि एमएनएस कार्यकर्ताओं ने सुनियोजित तरीके से प्रदर्शन को अंजाम दिया और आगजनी की।

इस खुलासे के बाद एनसीपी ने कहा है कि मनसे द्वारा इस तरह की घटना कोई नई नहीं है। पार्टी के मुताबिक राज ठाकरे की कार पर एनसीपी कार्यकर्ताओं द्वारा हमला करने की बात भी केवल सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए फैलाई गई थी। पुलिस ने इस मामले में एमएनएस कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप