नई दिल्ली। भारत की सबसे बड़ी सरकारी तेल कंपनी इंडियन ऑयल ने शुक्रवार को पेट्रोल के दामों में प्रति लीटर 3.13 रुपए और डीज़ल के दामों में 2.71 रुपए वृद्धि की घोषणा की। बढ़े हुए दाम शुक्रवार मध्यरात्रि से लागू हो गए। अब इसका विरोध देश के कई हिस्सों में शुरू हो गया है।

दिल्ली में युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने तेल की कीमतों में इजाफे को लेकर विरोध प्रदर्शन किया और रिक्शे पर स्कूटर रखा और उसे काफी दूर तक खींचा।

इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर में लोग सड़कों पर उतर आए और पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी का विरोध कर रहे हैं। इन लोगों की मांग है कि पेट्रोल, डीजल और एलपीजी पर से सेल टैक्स और वैट को हटा दिया जाना चाहिए। इसके साथ साथ इन लोगों ने ये भी मांग की है कि एलपीजी की होम डिलिवरी हो।

तो वहीं एमडीएमके नेता वाइको ने एनडीए सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि ये साफ हो गया है कि बीजेपी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार जनता विरोधी सरकार है। इसके साथ ही उन्होंने पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाए जाने की निंदा करते हुए इस वापस लेने की मांग की है।

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने भी ट्वीट कर तेल के दामों में बढ़ोतरी पर चुटकी लेते हुए कहा कि मोदी को प्रधानमंत्री बने हुए एक साल हो गया है और पेट्रोल-डीजल की बढ़ी हुई कीमतें हमें तोहफे में मिली हैं। और इसके लिए आपको धन्यवाद कि एक साल में आठवीं बार तेल पर दाम बढ़ाए।

कांग्रेस नेता अजय माकन ने भी दिग्गी राजा से मिलता जुलता ट्वीट किया कि से सालगिरह का गिफ्ट है।

यह भी पढ़ें- चीन में बैठ कर पीएम ने देशवासियों को दी 16 मई की बधाई, कहा 'शुक्रिया'

यह भी पढ़ें- इतिहास की सबसे 'ताकतवर' सेल्फी, दुनिया भर में चर्चा

Posted By: Abhishek Pratap Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप