नई दिल्ली। संसद का बजट सत्र सोमवार से शुरू हो रहा है। एक महीने से अधिक समय तक चलने वाले सत्र में महंगाई का मुद्दा छाए रहने की संभावना है। इस सत्र में नरेंद्र मोदी सरकार अपना पहला बजट पेश करेगी।

सरकार को घेरने के लिए विपक्षी दलों के पास मुद्दों की कमी नहीं है। इनमें सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश के तौर पर पूर्व सॉलिसीटर जनरल गोपाल सुब्रमण्यम का नाम ठुकराए जाने को लेकर उठा विवाद, केंद्रीय मंत्री निहालचंद पर बलात्कार के आरोप से उठा विवाद तथा देश में महिलाओं के खिलाफ ज्यादती के बढ़ते मामले शामिल हैं।

माना जा रहा है कि सत्र के पहले दिन की बैठक में इराक में भारतीयों की स्थिति पर संसद के दोनों सदनों में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की ओर से बयान दिया जाएगा। रेल बजट 8 अगस्त को पेश किया जाएगा। इसके अगले दिन आर्थिक सर्वे पेश होगा। 10 जुलाई को वर्ष 2014-15 के लिए केंद्रीय बजट पेश किया जाएगा।

पढ़ें: मध्य वर्ग को राहत देने की तैयारी, जानिए, किसे होगा अधिक फायदा

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस