मदुरै (प्रेट्र)। शहर में पेंटेकोस्‍टल चर्च के दो प्रार्थना घरों पर कथित हिंदू मुन्‍नानी के सदस्‍यों ने हमला किया। पुलिस ने शिकायत दर्ज कराने वाले पादरी रवि जैकब के हवाले से बताया कि ग्रुप ने कुछ पंपलेट और बाइबिल की प्रतियां जला दीं। इसके अलावा रविवार को सिकंदर चावड़ी व कूडल नगर में स्‍थित प्रार्थना घरों में मौजूद अनुयायियों व पादरियों को अपशब्‍द कहा।

जैकब ने बताया कि 10 लोग प्रार्थना घरों में घुस गए बाइबिल की प्रतियां ले गए और उन्‍हें जला दिया। सोशल नेटवर्किंग साइट पर भी इसका विडियो क्‍लिप मौजूद है। पुलिस ने बताया कि हिंदू मुन्‍नानी के दस सदस्‍यों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है जिसमें से तीन की पहचान हो गयी है। पुलिस ने बताया कि शुरुआत में पूछताछ के दौरान इन्‍होंने हमले की बात से इंकार किया और कहा कि धर्मांतरण के लिए बहलाए गए लोगों का विरोध कर रहे थे।

हिंदू मुन्‍नानी के कार्यकर्ताओं का कहना है कि शिकायत एक साजिश है ताकि कुछ संगठन अवैध धर्मांतरण को जारी रख सकें। पुलिस ने कहा कि उन्‍हें लोगों से शिकायत मिली की कुछ प्रार्थना घरों को अवैध तौर पर चलाया जा रहा है और इसे बंद करने की मांग की। इस बीच यह हमले की खबर आयी है। तमिलनाडु के पादरियों ने इस घटना की निंदा की और कहा कि ईसाईयों को भगाने के लिए ये कोशिशें हो रही हैं। 

By Monika Minal