नई दिल्ली, एएनआइ। भारतीय भाषाओं को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने टीवी चैनलों को लेकर आदेश जारी किया है। सरकार के इस आदेश का मकसद भारतीय भाषाओं का प्रचार और प्रसार है। जावड़ेकर के फैसले के तहत अब सभी चैनलों को कार्यक्रम के टाइटल भारतीय भाषाओं में भी दिखाना अनिवार्य रहेगा। 

टीवी चैनल से जुड़े आदेश की जानकारी देते हुए केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि टीवी चैनल कोई भी कार्यक्रम दिखाएं, उस कार्यक्रम के अंत या शुरुआत में ज्यादातर अंग्रेजी में ही टाइटल लिखे होते हैं। भारतीय भाषाओं को बढ़ावा देने के लिए सभी टीवी चैनलों को एक आदेश जारी किया गया है। टीवी चैनल अपने कार्यक्रम के अंत व शुरुआत में टाइटल को अब भारतीय भाषाओं में दिखाना अनिवार्य है।

बता दें कि भारतीय भाषाओं में हिंदी, बांग्ला, तेलगू, तमिल, मलयालम, कन्नड़, पंजाबी, गुजराती, मराठी, उर्दू, संस्कृत, मैथिली, और सिंधी आदि भाषाएं आती हैं।

गौरतलब है कि मनोरंजन जगत में टीवी चैनल ज्यादातर कार्यक्रम के टाइटल के रूप में अंग्रेजी भाषा का ही ज्यादा प्रयोग करते हैं। वहीं, अब भारतीय भाषाओं को बढ़ावा देने के लिए अंग्रेजी के अलावा अन्य भारतीय भाषाओं का प्रयोग किए जाने पर आदेश जारी किया गया है। भारतीय भाषाओं में हिंदी के अलावा तमिल, तेलगू, बंग्ला, और पंजाबी है। इन भाषाओं का प्रयोग टीवी चैनल अपने अनुसार राज्य में दिखाए जाने वाले कार्यक्रमों के टाइटल में कर सकते हैं। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस