तिरुअनंतपुरम, प्रेट्र। केरल के कोल्लम जिले में एक कॉन्वेंट स्कूल के कुएं में मृत मिली नन की मौत डूबने से हुई थी। सोमवार को आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह पता चला है। पुलिस ने रिपोर्ट के हवाले से कहा कि पठानपुरम के माउंट टबोर कॉन्वेंट स्कूल परिसर में रहने वाली सिस्टर सूसन के शरीर पर चोट के कोई दूसरे निशान नहीं मिले हैं। हालांकि उनकी कलाई पर स्वयं पहुंचाई गई चोट के निशान जरूर हैं।

एक वरिष्ठ पुलिस ने अधिकारी ने बताया कि नन का पोस्टमार्टम तिरुअनंतपुरम के सरकारी मेडिकल कॉलेज में हुआ। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक यह मामला आत्महत्या का लगता है। रिपोर्ट के मुताबिक उनकी मौत डूबने से हुई है। इतना ही उनके पेट में नैप्थलीन की गोलियां भी मिली हैं। साथ ही उनके दोनों हाथों की नसें कटी मिली हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस जल्द ही अपनी रिपोर्ट पेश करेगी।

बता दें कि 55 वर्षीय नन कॉन्वेंट से जुड़े सेंट स्टीफेंस स्कूल में ही पढ़ाती थीं। स्कूल और कॉन्वेंट दोनों को कोट्टायम- मुख्यालय मलंकारा सीरियाई आर्थोडाक्स चर्च द्वारा संचालित किया जाता है। रविवार सुबह कॉन्वेंट के कर्मचारियों ने सबसे पहले कुएं के पास खून के निशान देखे और बाद में उन्होंने कुएं के अंदर शव पड़ा देखा। पुलिस को नन के कमरे के अंदर भी खून के निशान मिले थे। पुलिस ने इस संबंध में अप्राकृतिक मौत का मामला दर्ज किया था।

 

Posted By: Arun Kumar Singh