कोच्चि, प्रेट्र। पोप फ्रांसिस रविवार को वेटिकन सिटी में भारतीय नन मरियम थ्रेसिया चिरामेल मानकिडियन को संत घोषित करेंगे। इस कार्यक्रम में शामिल होने वाले भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व विदेश राज्यमंत्री वी मुरलीधरन करेंगे। यह जानकारी विदेश मंत्रालय ने दी है। मरियम त्रिशूर में कांग्रीगेशन ऑफ द सिस्टर्स ऑफ द होली फैमिली (सीएचएफ) की संस्थापक थी। वेटिकन न्यूज ने कहा है कि रोम के पीटर्स स्क्वायर पर समारोह में उन्हें संत घोषित किया जाएगा।

वेटिकन सिटी की दो दिवसीय यात्रा करेंगे मुरलीधरन

शुरू में मरियम थ्रेसिया को थ्रेसिया ही कहा जाता था। 1904 से उन्होंने मरियम थ्रेसिया कहे जाने की इच्छा जताई थी। उनका मानना था कि स्वप्न में वर्जिन मैरी ने उन्हें अपने नाम में यह जोड़ने के लिए कहा है। विदेश मंत्रालय के अनुसार, मुरलीधरन सिस्टर मरियम थ्रेसिया को संत घोषित करने के कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए शनिवार से रविवार तक वेटिकन सिटी की दो दिवसीय यात्रा करेंगे।

'मन की बात' कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी ने किया था जिक्र 

सिस्टर मरियम थ्रेसिया का जन्म 26 अप्रैल 1876 को केरल के त्रिशूर में हुआ था। आठ जून, 1926 को उनका निधन हो गया था। पोप जॉन पॉल द्वितीय ने नौ अप्रैल, 2000 को उन्हें 'धन्य' घोषित किया था। पिछले महीने अपने 'मन की बात' कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सिस्टर थ्रेसिया का उल्लेख किया था। उन्होंने कहा था कि यह हर भारतीय के लिए गौरव का विषय है कि आगामी 13 अक्टूबर को पोप फ्रांसिस उन्हें संत घोषित करेंगे।

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप