नई दिल्ली, एएनआइ। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने सोमवार को भारत आए अमेरिका के रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ( Mark Esper) से हैदराबाद हाउस में मुलाकात की। हैदराबाद हाउस में दोनों देशों के प्रतिनिधिमंडल के बीच वार्ता संपन्न हुई जिसके लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संतुष्टि जताई। उन्होंने कहा, 'अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर के यहां आने से भारत प्रसन्न है, आज की हमारी वार्ता सफल रही। यह वार्ता दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग को व्यापक स्तर पर ले जाने के उद्देश्य के साथ की गई। आज की वार्ता से हमारे रक्षा संबंध व आपसी सहयोग में नया रंग जुड़ेगा।

India US Ministerial dialogue Update 

- मंगलवार से शुरू होने वाली भारत अमेरिका की टू-प्‍लस-टू वार्ता से पहले विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने समकक्ष माइक पोंपियो से बातचीत की। 

- रक्षा मंत्रालय ने कहा कि रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्‍पर ने इस बात से संतोष व्यक्त किया है कि यात्रा के दौरान बेका समझौते (BECA, Basic Exchange and Cooperation Agreement) पर हस्ताक्षर किए जाएंगे। 

- इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह व उनके अमेरिकी समकक्ष के बीच आज हुई वार्ता का अहम मुद्दा हिंद प्रशांत क्षेत्र में विकास व यहां रक्षा सहयोग का विस्तार था। दोनों देशों के बीच सहयोग आदि पर हुए एग्रीमेंट पर मंगलवार को हस्ताक्षर की संभावना है। 

- भारत में अमेरिकी राजदूत केनेथ जस्टर (Kenneth Juster) ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और नेवी चीफ एडमिरल करमबीर सिंह का अभिवादन किया। इस मुलाकात में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत ( Bipin Rawat), आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (Army Chief General Manoj Mukund Naravane), IAF चीफ एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया (RKS Bhadauria) व नेवी चीफ एडमिरल करमबीर सिंह भी मौजूद रहे।

इससे पहले अमेरिका के रक्षा मंत्री मार्क एस्पर (Mark Esper) साउथ ब्लॉक में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। उनका स्वागत रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया। चीन के साथ सीमा पर जारी तनाव और अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के बीच भारत और यूएस के बीच अहम बैठक होने जा रही है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो, रक्षा मंत्री मार्क एस्पर सोमवार को नई दिल्ली पहुंचे। यहां दोनों भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ 2+2 बैठक में हिस्सा लेंगे।

भारत और अमेरिका के बीच 2+2 मीटिंग मंगलवार को शुरू होगी। विदेश मंत्री एस. जयशंकर, माइक पोंपियो के साथ आज शाम को सात बजे बैठक करेंगे। इन बैठकों के बाद शाम को डिनर का आयोजन किया जाएगा।

माइकल पोंपियो और मार्क एस्पर मंगलवार को भारत-अमेरिका के बीच टू-प्लस-टू वार्ता के तीसरे संस्करण में हिस्सा लेंगे। अमेरिका में चुनाव से महज एक हफ्ते पहले ट्रंप के दो शीर्ष मंत्रियों की यह वार्ता बेहद महत्‍वपूर्ण मानी जा रही है। वार्ता में कई महत्वपूर्ण द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर चर्चा होगी जिसमें हिंद-प्रशांत क्षेत्र में प्रभाव बढ़ाने का चीन का प्रयास और पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में उसका आक्रामक व्यवहार भी शामिल है।

पीएम मोदी से भी करेंगे मुलाकात

वार्ता के साथ ही पोंपियो और एस्पर अपने भारतीय समकक्षों के साथ द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगे। वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात करेंगे। अधिकारियों ने बताया कि अमेरिका के रक्षा मंत्री एस्पर को सोमवार की दोपहर रायसीना हिल्स के साउथ ब्लॉक के लॉन में सलामी गारद पेश किया जाएगा।

बेका को अंतिम रूप

दोनों पक्ष काफी समय से लंबित बेका (बेसिक एक्सचेंज एंड कोऑपरेशन एग्रीमेंट) को भी अंतिम रूप देंगे। बेका के तहत दोनों देशों के बीच अत्याधुनिक सैन्य प्रौद्योगिकी, साजो-सामान और भूस्थानिक मानचित्रों का आदान-प्रदान करना शामिल है। इस समझौते से भारत को अमेरिका की ओर से सटीक जियोस्पेशियल डेटा मिलेगा, जिसका इस्तेमाल मिलिट्री ऑपरेशंस में काफी कारगर साबित होगा।

क्या है टू प्लस टू वार्ता

भारत और अमेरिका के बीच यह तीसरे चरण की वार्ता है। टू प्लस टू के तहत दोनों देशों के विदेश मंत्रियों और रक्षा मंत्रियों के बीच अहम मुद्दों पर वार्ता होती है। अमेरिकी की तरफ से विदेश मंत्री माइक पोंपियो और रक्षा मंत्री मार्कटी एस्पर इस वार्ता में शामिल होंगे। वहीं, भारत की ओर से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री एस जयशंकर वार्ता में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे।

भागीदारों से जुड़ने का अवसर:  पोंपियो

विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने अपने ट्वीट में लिखा, 'भारत, श्रीलंका, मालदीव और इंडोनेशिया की मेरी यात्रा शुरू हुई। स्वतंत्र, मजबूत और समृद्ध राष्ट्रों से बने मुक्त और खुले भारत प्रशांत के लिए साझा दृष्टिकोण को बढ़ावा देने के खातिर हमारे भागीदारों से जुड़ने के अवसर के लिए आभारी हूं।'

यह भी देखें: Rajnath Singh, CDS Rawat, Army Chief की Mark Esper से हुई मीटिंग, जानें क्या हुआ

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस