भोपाल, एएनआइ। मध्यप्रदेश में शनिवार को किसानों के समर्थन में कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने रैली आयोजित की जिसे तितर बितर करने के लिए पुलिस ने पानी का बौछार किया। यह रैली जवाहर चौक से राजभवन तक निकाली जा रही थी। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह (Digvijaya Singh), जयवर्द्धन सिंह (Jaivardhan Singh) और कुणाल चौधरी (Kunal Choudhary) समेत 20 पार्टी वर्करों के साथ पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

किसानों के समर्थन में और तीनों नए कृषि कानूनों (New Farm Laws) के विरोध में भोपाल की सड़कों पर उतरे कांग्रेस (Congress) नेताओं और कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज तो किया ही और इस ठंड के मौसम में  पानी की बौछार भी की। ये सभी  कांग्रेसी राजभवन का घेराव करने जा रहे थे लेकिन पुलिस ने बीच रास्ते में ही पूर्व 

मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ की अगुवाई में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आज राजभवन मार्च और घेराव का आयोजन किया था।  शनिवार सुबह करीब 11 बजे के करीब सभी नेता, कार्यकर्ता शहर के जवाहर चौक पर एकत्रित हुए और फिर राजभवन की ओर रवाना हुए।  पुलिस ने इस काफिले को  बीच रास्ते में रोकने की कोशिश की। इसी दौरान पुलिस ने पहले उन पर आंसू गैस के गोले छोड़े, लाठियां भांजी फिर ठंडे पानी की बौछार की। 

पुलिस की इस कार्रवाई पर कांग्रेस ने आपत्ति जताई और कहा है कि राज्य में शिवराज सिंह सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। मध्य प्रदेश कांग्रस ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, 'कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज, शिवराज की तानाशाही ने ब्रिटिश राज की याद दिलाई; भोपाल में शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर शिवराज का लाठीचार्ज, अश्रुगैस और वाटर कैनन का उपयोग करना ग़ुलामी काल में अंग्रेजों द्वारा किये दमन की याद दिलाता है. शिवराज जी, आपकी उल्टी गिनती शुरू है।'

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप