नई दिल्‍ली, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि उनके घर में प्रेस न होने के बावजूद कपड़ों पर किस तरह लोहे के बर्तन में गर्म कोयला भरकर प्रेस करते थे और फिर बाहर जाया करते थे। उन्‍होंने अपने जूते सफेद करने का तरीका भी बताया। प्रधानमंत्री ने यह खुलासा अक्षय कुमार से बातचीत के दौरान किया। 

प्रधानमंत्री आवास पर अभिनेता अक्षय कुमार के सवालों का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बचपन से ही वह ढंग से रहने के शौकीन थे। उन्‍हें साफ सुथरे तरीके से रहने की आदत थी। गरीबी के कारण उन दिनों घर में प्रेस नहीं था, जिस कारण कपड़ों पर स्‍त्री नहीं हो पाती थी। ऐसे में वह लोहे के लोटे में गर्म कोयला भर दिया करते थे। उसी लोटे को कपड़ों पर फेरकर प्रेस करने के बाद पहनते थे।

अक्षय कुमार से बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि बचपन में उनके पास जूते नहीं थे। तब उनके मामा एक दिन घर आए और उन्‍हें सफेद जूते खरीदकर दिए। उन्‍होंने बताया कि तब शायद वह जूत 7 या 8 रुपये में मिलते होंगे। प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि थोड़े ही दिनों में वह सफेद जूते गंदे होने शुरू हो गए। तो स्‍कूल में छुट्टी के बाद जब सारे बच्‍चे क्‍लासरूम से चले जाते थे तब वह टीचर द्वारा फेंकी गई चॉक के टुकड़े इकट्ठा कर लिया करते थे। हर दिन सुबह चॉक से अपने जूते सफेद कर लिया करते थे।

बता दें के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को अपने आवास पर अक्षय कुमार से बातचीत की। शुरुआत में अक्षय कुमार ने साफ कर दिया था कि वह प्रधानमंत्री से किसी भी तरह का राजनीतिक सवाल नहीं करेंगे। अक्षय कुमार ने इस दौरान प्रधानमंत्री की जीवन से जुड़े विभिन्‍न पहलुओं पर बात की और उनसे सवाल किए।

Posted By: Rizwan Mohammad

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप