इंदौर, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 'मन की बात' में इंदौर समेत छह शहरों का जिक्र करते हुए कहा कि इन शहरों के लाइट हाउस प्रोजेक्ट इंक्यूबेशन (उद्भवन) सेंटर का काम करेंगे। इनमें कम लागत के मकान बनाए जा रहे हैं। वहां प्लानरों, युवाओं, इंजीनियरों और आर्किटेक्टों को नई तकनीक जानने और नए-नए प्रयोग कर उसे बढ़ावा देने का अवसर मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने बताया कि तीन जुलाई को उन्होंने छह शहरों के लाइट हाउस प्रोजेक्ट में किए जा रहे काम ड्रोन की मदद से वर्चुअली देखकर समीक्षा की और कार्य की प्रगति को देखा। लाइट हाउस प्रोजेक्ट वाले शहरों की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री ने सबसे पहले इंदौर के प्रोजेक्ट की जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि इंदौर में परंपरागत ईट और दीवार के बजाय प्री-फ्रेबिकेटेड सैंडविच पेनल सिस्टम का उपयोग कर मकान बनाए जा रहे हैं। इन प्रोजेक्ट में आधुनिक और इनोवेटिव तकनीक का उपयोग हो रहा है, जिसमें समय कम लगता है।

गौरतलब है कि इंदौर के कनाडि़या क्षेत्र में जापानी तकनीक से आठ ब्लॉक में 1024 फ्लैट 128 करोड़ रपये की लागत से बनाए जा रहे हैं। हालांकि यहां काम अपेक्षित गति से नहीं चल रहा है।