नई दिल्ली, एजेंसियां। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना काल में आज एक बार फिर देश की जनता को संबोधित करेंगे। इसको लेकर प्रधानमंत्री ने आज खुद ट्वीट किया और लोगों से इससे जुड़ने की अपील की। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना काल में देश की जनता को 6 बार संबोधित कर चुके हैं। कोरोना काल में अलग-अलग चरण के लॉकडाउन से लेकर आत्मनिर्भर भारत समेत कई बातों को लेकर वह जनता के सामने आ चुके हैं। आइए जानते हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किस तारीख को अपना संबोधन दिया और उनके संबोधन की प्रमुख बातें क्या रहीं।

19 मार्च- जनता कर्फ्यू की अपील

कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 19 मार्च, 2020 को पहली बार देश की जनता के सामने आए। अपने पहले संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रात 8 बजे देश की जनता को संबोधित किया। अपने पहले संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता से कोरोना के खिलाफ एकजुट होने की अपील की।

इसके अलावा उन्होंने शारीरिक दूरी और अन्य सावधानियों का पालन करते हुए 22 मार्च, 2020 को जनता कर्फ्यू की भी अपील की। उस दौरान उन्होंने जनता से शाम पांच बजे 5 मिनट घरों की बालकनी व गेट पर आकर कोरोना के फ्रंट लाइन वारियर्स को हौसला बढ़ाने के लिए ताली, थाली, घंटी व शंख आदि बजाने की अपील की थी।

24 मार्च- देश में 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान

22 मार्च, 2020 को जनता कर्फ्यू के सफल होने के बाद पीएम मोदी दूसरी बार 24 मार्च, 2020 को देश की जनता के सामने आए। 24 मार्च, 2020 को रात 8 बजे दिए गए अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कोरोना से निपटने के लिए एक सख्त फैसला लेते हुए पूरे देश में 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया। 

3 अप्रैल- 9 बजे 9 मिनट दीप जलाने की अपील

लॉकडाउन 1 के दौरान एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों को संबोधित किया। इस दौरान दिए गए अपने संबोधन में पीएम ने कोरोना के फ्रंट लाइन वारियर्स का हौसला बढ़ाने और आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के लोगों संग एकजुटता दिखाने के लिए प्रधानमंत्री ने तीसरी बार वीडियो संदेश जारी कर देश को संबोधित किया था। इस बार उन्होंने लोगों से अपील की कि वे 5 अप्रैल की रात नौ बजे 9 मिनट का वक्त देश के लिए निकालें। इस दौरान लोगों से घरों की बत्तियां बंद कर अपनी बालकनी, दरवाजों और घरों के बाहर दीप, मोमबत्ती, टार्च, मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाने का आव्हान किया था।

14 अप्रैल- लॉकडाउन 2 की घोषणा

लॉकडाउन 1 के ठीक से खत्म होने से ठीक पहले पीएम मोदी एक बार फिर देश के सामने आए। 14 अप्रैल को दिए अपने चौथे संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने तीन मई से देश भर में लॉकडाउन 2 की घोषणा की।

7 मई- बुद्ध पूर्णिमा पर दिया संबोधन

7 मई को प्रधानमंत्री मोदी का यह संबोधन कोरोना वायरस संबंधित नहीं था। ये संबोधन भले ही बुद्ध पूर्णिमा के उपलक्ष्य में था, लेकिन इसमें भी पीएम ने कोरोना महामारी का जिक्र किया था।उन्होंने भगवान बुद्ध के मार्ग पर चलते हुए कोरोना का मुकाबला करने की अपील की थी। साथ ही कोरोना योद्धाओं का आभार प्रकट किया था।

12 मई- 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज का एलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने 12 मई को रात 8 बजे एक बार फिर राष्ट्र को संबोधित किया। कोरोना काल में यह देशवासियों के नाम पीएम मोदी का छठा संबोधन रहा। प्रधानमंत्री एक बार फिर जनता से रूबरू हुए। इस बार प्रधानमंत्री मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज का एलान किया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस