नई दिल्ली, पीटीआइ। फार्मास्यूटिकल कंपनी सिप्ला ने बुधवार को बताया कि उसने भारत में एंटी वायरल ड्रग रेमडेसिविर का जेनेरिक वर्जन सिप्रेमी लांच कर दिया है। इसकी कीमत 4,000 रुपये प्रति 100 मिग्रा वाइल रखी गई है जो बाकी दुनिया से काफी कम है। पहले महीने में कंपनी 80 हजार वाइल्स की आपूर्ति करने जा रही है। कंपनी के एक्जीक्यूटिव वाइस प्रेसीडेंट और सीईओ (इंडियन बिजनेस) निखिल चोपड़ा ने एक बयान जारी कर यह जानकारी दी। 

निखिल चोपड़ा ने कहा कि दवा का समान वितरण सुनिश्चित करने के लिए यह दवा सरकार और अस्पतालों के चैनल के जरिये उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि आवश्यकता के इस दौर में समुदाय की मदद करने के लिए कंपनी दवा की कुछ मात्रा दान भी करेगी। मालूम हो कि भारत के औषधि महानियंत्रक ने सिप्रेमी को देश में सीमित आपात इस्तेमाल के लिए स्वीकृति प्रदान की है।

इससे पहले फार्मास्यूटिकल कंपनी माईलेन एनवी ने सोमवार को कहा था कि रेमडेसिविर के उसके जेनेरिक वर्जन की कीमत प्रति 100 मिग्रा वाइल 4,800 रुपये होगी। जबकि हैदराबाद स्थित दवा कंपनी हीटेरो ने कहा कि उसने इस दवा का अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) 5,400 रुपये निर्धारित किया है। रेमडेसिविर एक मात्र ऐसा इलाज है जिसे अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (United States Food and Drug Administration, USFDA) ने कोविड-19 के अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए स्वीकृत किया है।

हाल ही में केंद्र सरकार ने कोरोना संक्रमितों के इलाज में इस्‍तेमाल हो रही दवा रेमडेसिवीर को लेकर नई गाइडलाइन जारी की थी। इसमें कहा गया है कि दवा की डोज छह दिन के बजाय पांच दिन तक मरीजों को दी जाएगी। पहले दिन मरीज को इंजेक्‍शन के रूप में रेमडेसिवीर की 200mg डोज दी जाएगी। इसके बाद अगले चार दिन तक रोजाना 100-100mg के इंजेक्‍शन लगाए जाएंगे। सरकार ने बीते 13 जून को रेमडेसिवीर (Remdesivir) के आपात इस्‍तेमाल की इजाजत दी थी।  

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप