मुंबई (पीटीआई)। इंद्राणी मुखर्जी अदालत को गुमराह करने और 'प्रतिकूल प्रचार' पाने की कोशिश कर रही है। सोमवार को शीना बोरा हत्याकांड में मीडिया कारोबारी पीटर मुखर्जी ने पत्नी इंद्राणी पर ये आरोप लगाए। पीटर इस मामले में आरोपी, जबकि इंद्राणी मुख्य आरोपी हैं।

इंद्राणी ने कोर्ट में एक अर्जी दी है। इसमें इंद्राणी ने आरोप लगाया है कि उसकी बेटी शीना को गायब करने में उसके पति पीटर की ही भूमिका रही होगी। पीटर ने इस अर्जी पर अपने वकील श्रीकांत शिवदे के जरिये कोर्ट में अपना पक्ष रखा। शिवदे ने कहा कि इंद्राणी ने पीटर के काल डाटा रिकॉर्ड (सीडीआर) मांगे हैं, जबकि इसका याचिका से कोई लेना-देना नहीं है।

शिवदे ने कोर्ट को बताया, वह (इंद्राणी) मीडिया का इस्तेमाल कर कोर्ट को गुमराह कर रही है। वह खुद को पीडि़त के रूप में पेश कर 'गलत धारणा' बनाने के लिए मीडिया में प्रचार पाने की कोशिश कर रही है।

शिवदे ने दलील दी कि यदि इंद्राणी के पास यह विश्वास करने के लिए कोई ठोस कारण है कि शीना के गायब करने में पीटर की कोई भूमिका है तो पुलिस पूछताछ के दौरान उसे यह बात बतानी चाहिए थी। सिर्फ मीडिया में प्रचार पाने के अलावा इन आरोपों का कोई आधार नहीं है। यह पूर्वाग्रह पैदा करने के लिए एक सुनियोजित साजिश थी। वह मुकदमा बिगाड़ने के लिए एक और रणनीति बना रही है।

यह भी पढ़ें: मनी लांड्रिंग मामले में ईडी ने बायकुला जेल में इंद्रानी मुखर्जी से की पूछताछ

यह भी पढ़ें: पीटर मुखर्जी की याचिका पर हाई कोर्ट का फैसला सुरक्षित

Posted By: Kishor Joshi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप