नई दिल्ली, एएनआइ। देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों के बीच आंध्र प्रदेश में दो गैर-आवासीय भारतीयों के खिलाफ कृष्णा जिले के माइलाराम में होम क्वारंनटाइन से भागने का मामला दर्ज किया गया है। पुलिस का कहना है कि ये दोनों 14 मार्च को अमेरिका से लौटे थे और उन्हें होम क्वारंनटाइन के तहत रखा गया था। आज वे दोनों अपने घरों से गायब पाए गए। हालांकि, होम क्वारंटाइन से भागने का ये पहले मामला नहीं है। इससे पहले कानपुर के ही एक अस्पताल में आइसोलेशन में रखे गए पांच मरीज भाग गए थे। हालांकि, उनमें से कुछ की कोरोना वायरस के लिए टेस्ट रिपोर्ट आई नहीं थी।

केरल के रहने वाले अनुपम मिश्रा, कोल्लम के उपजिलाधिकारी, जिन्हें 19 मार्च को विदेश से लौटने के बाद घर पर रहने के लिए कहा गया था, वह कानपुर चले गए हैं। जिला कलेक्टर ने राज्य सरकार को एक रिपोर्ट सौंपी है जिसमें कहा गया है कि उप-संग्रहकर्ता ने संगरोध प्रतिबंधों का उल्लंघन किया है। दरअसल, कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति में इसके लक्षण 14 दिन के बाद नजर आते हैं। ऐसे मे बेहद जरुरी है कि यदि आप हाल फिलहाल में  विदेश यात्रा करके लौटें है तो आप खुद को क्वारेंटाइन कर ले। क्योंकि, यदि आपने ऐसा नहीं किया तो आप अपने साथ-साथ दूसरों को भी नुकसान पहुंचाएंगे। अगर आपको कोरोना के संक्रमण का शक है तो कृपया सार्वजनिक समारोह, शादी, पार्टी आदि से 14 दिन या स्वस्थ होने तक शामिल नहीं हों।

कैसें हो होम क्वॉरेंटाइन 

- होम क्वॉरेंटाउन के लिए सबसे पहले तो एक ऐसा कमरे को चुने जो हवादार हो और जिसमें टॉयलेट हो।

- यदि आप अकेले नहीं रह सकते और उस कमरे में आपके साथ कोई और भी है तो आप दोनों में भी कम से कम एक मीटर की दूरी होने जरुरी है। 

- जो व्यक्ति क्वॉरेंटाइन हो रहा है उसके लिए बेहद जरुरी है कि वो घर के बुजुर्ग, गर्भवती महिला और बच्चों से दूरी बनाए रखें। 

- यदि आप सर्जिकल मास्क लगाकर रह रहें है तो हर 6-8 घंटे में मास्क बदल दें। साथ ही मास्क का डिस्पोजल सही तरीके से करें।

होम क्वॉरेंटाइन से क्या होगा फायदा

देश दुनिया में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। अभी तक के कोरोना के मामलों को देखते हुए विशेषज्ञों का कहना है कि होम क्वारंटाइन कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में काफी मददगार साबित हुआ है। अगर किसी को कोरोना के संक्रमण का शक भी हो तो घर पर 14 दिन के लिए होम क्वॉरेंटाइन कर सकते हैं।

दूसरों को भी कर सकतें है संक्रमित

यदि आप किसी कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हैं या फिर आपको सर्दी खांसी बुखार जैसे लक्षण दिखाई दें रहें हो, तो आप अपने आपकों  दूसरों से अलग कर सकते हैं। बता दें कि करोना के लक्षण सामने आने में 14 दिनों तक का समय लग रहा है। ऐसे में यदि आप जरा सी भी लापरवाही करते हैं तो आप अपने साथ-साथ सैंकड़ों लोगों को बीमार कर सकते हैं।

Posted By: Ayushi Tyagi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस