जयपुर, जागरण संवाददाता। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई भारत में जासूसी से बाज नहीं रहा है। हेरोइन व नकली नोटों का लालच देकर वह अपना जासूसी नेटवर्क तैयार कर रहा है। राजस्थान एटीएस की टीम ने शुक्रवार देर रात करीब 1 बजे राजस्थान में बाड़मेर के बीजराड़ पुलिस थाना क्षेत्र से एक युवक को पाकिस्तान के लिए जासूसी करने के मामले में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार युवक को शनिवार को जयपुर ले जाया गया है। अब यहां सभी एजेंसियां संयुक्त रूप से पूछताछ करेगी।

गिरफ्तार युवक का नाम रोशनदीन है। रोशनदीन बाड़मेर जिला मुख्यालय से कुछ दूर पर एक छोटे गांव में रहता है। कुछ दिन से वह खुफिया एजेंसियों के रडार पर था। उसकी गतिविधियों पर लगातार नजर रखी जा रही थी। अंतरराष्ट्रीय सीमा के निकट भारत माला प्रोजेक्ट के तहत बन रही सड़क परियोजना में रोशनदीन जेसीबी चलाता है। ऐसे में उसका सीमा क्षेत्र में प्रतिदिन आना जाना होता था। रोशनदीन की पाकिस्तान में रिश्तेदारी भी है और उनसे मिलने के नाम पर वह कई बार पाकिस्तान जाकर आ चुका है। पाकिस्तान यात्रा के दौरान आईएसआई ने उसे अपने झांसे में ले लिया और जासूसी के लिए तैयार कर लिया। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार रोशनदीन ने सीमा क्षेत्र व सामरिक गतिविधियों से जुड़ी कई महत्वपूर्ण जानकारियां पाकिस्तान भेजी है। अब जयपुर में उससे गहन पूछताछ में पूरे नेटवर्क का खुलासा होने की उम्मीद है। रोशनदीन पूर्व में हेरोइन तस्करी में पकड़े जा चुके कचरा खान की गाड़ी का चालक रह चुका है।

तस्करी पर भी आईएसआई का जोर

उल्लेखनीय है कि भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा से आईएसआई भारत में तस्करी की आड़ में खुफिया नेटवर्क फैला रही है। सीमावर्ती इलाके के लोगों को नकली नोट व हेरोइन की तस्करी का लालच देकर देश की आंतरिक जानकारी जुटा रही है। इसी साल अगस्त माह में बाड़मेर पुलिस ने 9 लोगों को नकली नोट और हेरोइन तस्करी में गिरफ्तार किया था। इनसे 2.740 किलो हेरोइन, 6.55 लाख के नकली नोट बरामद हुए थे। सीमा पर तारबंदी व कड़ी सुरक्षा व्यवस्था को धत्ता बताकर ये खेप भारतीय सीमा में पहुंच गई थी। पराड़िया निवासी अकबर खां को पाक तस्कर रोशन खां से दो बार में 12 लाख रुपए के नकली नोट की खेप मिली थी। इसमें 8 लाख रुपए 500-500 के नोट में थे तो 4 लाख रुपए 2-2 हजार के नोट थे। पुलिस को खेप देरी से हाथ लगी, तब तक 5.45 लाख रुपए असली के रूप में चला भी दिए और लोगों को भनक तक नहीं लगी। अब ये नोट बाजार में लोगों के पास फैल चुके है। इसी तरह 2-2 किलो हेरोइन के दो पैकेट सीमा पार से आए थे, लेकिन 2.740 किलो हेरोइन ही बरामद हुई। करीब डेढ़ किलो हेरोइन बेच दी गई।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस